Hemant Soren ने मोदी को सिखाया किसे कहते हैं योग

Hemant Soren ने मोदी को सिखाया किसे कहते हैं योग

आज योग दिवस पर झारखंड के मुख्यमंत्री Hemant Soren ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सिखाया कि किसे कहते हैं योग। भाजपा के योग और सोरेन के योग का देखिए फर्क।

आज योग दिवस पर झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आमने-सामने हो गए। प्रधानमंत्री ने योग का अर्थ बताया संयम और अनुशासन। वहीं हेमंत सोरेन ने योग को गरीब, मजदूर किसान से जोड़ा।

झारखंड भाजपा ने इस अवसर पर प्रधानमंत्री मोदी के संदेश का वीडियो जारी किया। पीएम का संदेश भी ट्वीट किया- आप सभी को 7वें ‘अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस’ की बहुत-बहुत शुभकामनाएं। योग का पहला पर्याय, संयम और अनुशासन को कहा गया है, सब उसे अपने जीवन में उतारने का प्रयास भी कर रहे हैं।

उधर, झारखंड के मुख्यमंत्री सोरेन ने ट्वीट किया-

गरीब की मेहनत है योग

भूख को दो वक्त रोटी है योग

किसान को सम्मान है योग

वंचित को अधिकार है योग

स्वस्थ रहने का साधन है योग

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस की सभी को हार्दिक शुभकामनाएं और जोहार।

प्रधानमंत्री मोदी के अनुसार योग का अर्थ है संयम और अनुसासन। इसका अर्थ है कि वैक्सीन न मिले, रोजगार न मिले, किसान को फसल की कीमत न मिले, आम आदमी को इलाज न मिले, तब भी उसे संयम रखना चाहिए। वहीं झारखंड के मुख्यमंत्री सोरेन ने योग का भिन्न अर्थ बताया। योग का अर्थ जोड़ना होता है, लेकिन किससे जोड़ना? भूखे को रोटी से नहीं जोड़ा, किसान को सम्मान नहीं दिया, आम जन को इलाज से नहीं जोड़ा, तो योग निरर्थक है।

कहीं योग के नाम पर हुई क्रूरता, कहीं कांग्रेस-राजद ने उठाया सवाल

इससे पहले भाजपा के कई बड़े नेताओं ने अपने बंगले में योग करते फोटो शेयर किया। भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा के विशाल बंगले में योग करने पर एक ने लिखा- बंगला है या बंगाल। हिंदुस्तान की पूर्व संपादक और लेखिका मृणाल पांडे ने ट्वीट किया- लाल किले में योग, और रेस्तरां में भोग। तुक भले मिले, पर दो महीने की तालाबंदी के बाद ये आयोजन हैं तो बेतुके।

Thanks Modiji का विज्ञापन देने कहा जा रहा : सिसोदिया

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*