गोदी मीडिया ने जिन्हें लापता बताया, वे मंत्रियों संग कर रहे मीटिंग

गोदी मीडिया ने जिन्हें लापता बताया, वे मंत्रियों संग कर रहे मीटिंग

गोदी मीडिया ने जिन्हें लापता बताया, वे मंत्रियों संग कर रहे मीटिंग। झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को मीडिया बता रहा लापता। गांधी को श्रद्धांजलि भी दी।

कल से ही गोदी झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को लापता बता रहा है, जबकि उन्होंने आज 30 जनवरी को शहीद दिवस के अवसर पर नेताओं के साथ महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि दी। अपने मंत्रियों और महागठबंधन विधायकों के साथ बैठक भी की। खुद हेमंत सोरेन ने इन अवसरों की तस्वीरें भी साझा की, लेकिन गोदी मीडिया बेशर्मी के साथ उनके लापता होने की खबर चला रहा है। दरअसल देशभर के विपक्षी नेताओं को बदनाम करने की साजिश की जा रही है। उसी साजिश के तहत प्रचारित किया जा रहा है कि सोरेन लापता हो गए हैं।

झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा कि वे किसी से नहीं डरते। वे न भाजपा के दबाव के आगे झुकने वाले हैं और न ही झारखंड के हितों की लड़ाई से पीछे हटने वाले हैं। सोरेन ने महात्मा गांधी को अपनी श्रद्धांजलि अर्पित करने के बाद ट्वीट करके कहा कि बापू के विचार हमें हमेशा प्रेरणा देते रहेंगे। लड़े हैं, लड़ेंगे और जीते हैं, जीतेंगे। राष्ट्रपिता महात्मा गांधी जी की पुण्यतिथि पर शत-शत नमन। उन्होंने अपने मंत्रियों और विधायकों के साथ बैठक में आगे की रणनीति पर विचार किया। नेताओं ने कहा कि लोकसभा चुनाव में भाजपा को अपनी हार दिख रही है, इसलिए वह हेंत सोरेन को परेशान करना चाहती है, लेकिन झारखंड की जनता हमारे साथ है। हम लड़ेंगे।

झामुमो समर्थक भी गोदी मीडिया की फर्जी खबरों का जवाब दे रहे हैं। राजनीतिक कार्यकर्ता निखिल ने हेमंत सोरेन की मीटिंग करते हुए तस्वीर शेयर करते हुए लिखा-लो आ गए हम! सब राजी खुशी। जब तक भाजपा को तोड़ेंगे नहीं तब तक छोड़ेंगे नहीं! @BJP4Jharkhand भगौड़े तुम्हारे लोग हैं हम नहीं। हम संघर्ष की उपज हैं हमारे भीतर झारखंडी वीरों का खून है। झारखण्ड के वीर शहीद अमर रहें!

ट्राइबल आर्मी ने लिखा-केंद्र सरकार के इशारे पर ईडी द्वारा मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को लगातार परेशान किया जाना भारतीय संवैधानिक व लोकतांत्रिक व्यवस्था का खुला मजाक है। हेमंत सोरेन जनता द्वारा चुने गए मुख्यमंत्री हैं, उन पर ईडी की इस कार्यवाई की लोकतंत्र बचाओ 2024 अभियान कड़ी निंदा करता है – लोकतंत्र बचाओ 2024 अभियान।

पूर्णिया में जनसैलाब, मैंने व तेजस्वी ने दबाव बना कराई जाति गणना