हिंसा का शिकार होनेवाले पुलिसकर्मियों के आश्रितों को मिलेेेेेेेेंगे 25 लाख

हिंसा का शिकार होनेवाले पुलिसकर्मियों के आश्रितों को अब 25 लाख। DGP की अध्यक्षता में केंद्रीय प्रशासी समिति की बैठक में बड़ा फैसला।

बिहार पुलिस ने एक महत्वपूर्ण फैसला लिया है। DGP राजविंदर सिंह भट्टी की अध्यक्षता में केंद्रीय प्रशासी समिति की बैठक में बड़ा फैसला किया गयै है। अब कोई भी पुलिस कर्मी आपराधिक मुठभेड़, नक्सली मुठभेड़, दंगा, बारूदी सुरंग, दुर्घटना, घटना-दुर्घटना के शिकार हो जाते हैं, अब उनके परिजनों को 25 लाख रुपए दिए जाएंगे। इस योजना की शुरुआत समस्तीपुर के मोहनपुर ओपी प्रभारी नंद किशोर यादव के परिजनों को लाभ देकर की जाएगी, जो छापेमारी के दौरान शहीद हो गए थे। बिहार पुलिस की इस योजना का लाभ समान रूप से सिपाही से लेकर हर वर्ग के पदाधिकारी तक को मिलेगी।

यह जानकारी पुलिस महानिरीक्षक के सहायक (कल्याण) विशाल शर्मा ने गुरुवार को बिहार पुलिस मुख्यालय में एक प्रेस वार्ता में दी। उन्होंने कहा कि पहले इस योजना के अंतर्गत दो लाख रुपए दिए जाथे। अब उसे बढ़ाकर 25 लाख रूपए कर दिया गया है। ये फैसला 22 अगस्त को डीजीपी की अध्यक्षता में केंद्रीय प्रशासी समिति की बैठक में लिया गया।

उन्होंने कहा कि पुलिस पदाधिकारियों/कर्मियों का कर्तव्य के दौरान मृत्यु या कर्त्तव्य के दौरान दुर्घटना में घायल होने पर इलाज के क्रम में मृत्यु होने पर अब आश्रित को मिलेंगे 25 लाख रुपए एक मुस्त अनुदान राशि। पुलिस महानिदेशक, बिहार की अध्यक्षता में बिहार पुलिस केंद्रीय प्रशासी समिति की बैठक की जानकारी पुलिस महानिरीक्षक के सहायक (कल्याण) विशाल शर्मा ने दी।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष के दिल से भाजपाई हैं : मो. शहजाद

By Editor


Notice: ob_end_flush(): Failed to send buffer of zlib output compression (0) in /home/naukarshahi/public_html/wp-includes/functions.php on line 5420