इंस्पेक्टर-दारोगा ने ही व्यापारी को लूट लिया, 50 Kg चांदी बरामद

हद है! इंस्पेक्टर, दारोगा और सिपाही ने चेकिंग के नाम पर सोना-चांदी के व्यापारी को रोका और लूट लिया। जांच हुई तो धरे गए। 50 Kg चांदी भी बरामद।

यूपी के बस्ती जिले में 13 साल की बच्ची के साथ रेप और हत्या में भाजपा नेता के शामिल होने तथा लखनऊ में कोर्ट में आरोपी की सरेआम हत्या की चर्चा खत्म भी नहीं हुई थी कि अब यूपी से ही आ रही एक अन्य खबर ने लोगों को हिला कर रख दिया है। पुलिस इंस्पेक्टर, दारोगा और सिपाही ने एक सर्राफा व्यापारी को चेकिंग के नाम पर रोका तथा उसे लूट लिया। जांच होने पर सच्चाई सामने आई। पुलिस ने लूटी गई 50 किलोग्राम चांदी बरामद कर ली है। यह बरामदगी इंस्पेक्टर के सरकारी आवास की गई।

इन तीन पुलिसवालों ने आगरा के व्यापारी मनीष सोनी से 50 किलो चांदी लूटी थी। लुटेरे पुलिसवालों की पहचान कानपुर देहात के भोगनीपुर इंस्पेक्टर, दारोगा व सिपाही रूप में हुई है।एसपी औरैया चारू निगम ने मीडिया को बताया कि 6 जून को आगरा के सर्राफा कारोबारी मनीष सोनी 50 किलो चांदी लेकर कार से फतेहपुर से आगरा जा रहे थे। भोगनीपुर इंस्पेक्टर अजय पाल शर्मा, दरोगा चिंतन कौशिक और हेड कॉन्स्टेबल रमाशंकर ने औरैया सीमा व्यापारी को जांच के नाम पर रोक लिया। एसपी के अनुसार व्यापारी तत्काल चांदी के कागजात नहीं दिखा सके। इसके बाद इंस्पेक्टर और अन्य पुलिसवाले चांदी लूटकर फरार हो गए। मामले में भोगनीपुर SHO अजय पाल सिंह और SI चिंतन कौशिक को गिरफ्तार कर लिया गया है। सिपाही रामशंकर फरार हो गया है।

सोशल मीडिया में इस घटना से भाजपा की योगी सरकार की फजीहत हो रही है। डॉ. आशुतोष वर्मा पटेल ने कहा-उत्तर प्रदेश की ठांय ठांय पुलिस जनता की सुरक्षा की बजाय खुद अपराध में लिप्त है। कानपुर में इंस्पेक्टर और दरोगा ने व्यापारी से 50 किलो चांदी लूट ली। व्यापारी से चेकिंग के बहाने अपराध को दिया अंजाम। यूपी में आम आदमी पुलिस के रवैये से त्रस्त है। सुरक्षा देने वाली पुलिस भय और असुरक्षा का प्रतीक बन गयी है।

बिहार में एकसाथ खुल गए 44 साइबर थाने, जानिए क्या होगा फायदा

By Editor


Notice: ob_end_flush(): Failed to send buffer of zlib output compression (0) in /home/naukarshahi/public_html/wp-includes/functions.php on line 5420