IPS अमिताभ ठाकुर का मोबाइल मिला, UP पुलिस को करेंगे बेनकाब

IPS अमिताभ ठाकुर का मोबाइल मिला, UP पुलिस को करेंगे बेनकाब

IPS अमिताभ ठाकुर को 2021 में अपमानित करते हुए गिरफ्तार कर जेल भेजा गया था। बोले, मोबाइल मिल गया। उसमें वीडियो है। UP प्रशासन को करेंगे बेनकाब।

उत्तर प्रदेश के वरिष्ठ आईपीएस अधिकारी अमिताभ ठाकुर ने पिछले साल मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के खिलाफ चुनाव लड़ने का एलान किया था। वे नई पार्टी भी बनाना चाहते थे, पर उनके एलान के बाद पिछले साल अगस्त में उन्हें गिरफ्तार करके जेल भेज दिया गया था। ठाकुर ने सत्ता किसी की हो, हमेशा गलत का विरोध किया।

आज अमिताभ ठाकुर ने खुद ट्वीट करके बताया कि उनका वह मोबाइल मिल गया है, जिसे पुलिस ने उन्हें जेल में डालने के बाद जब्त कर लिया था। संयोग से उस मोबाइल में वह वीडियो है, जिसे उन्होंने तब बनाया था, जब पुलिस वाले उन्हें जबरन गिरफ्तार कर रहे थे। उन्होंने कहा कि वे जल्द ही वीडियो के माध्यम से पूरे देश के सामने युपी प्रशासन को पोल खोलेंगे। उन्होंने ट्वीट किया- आज जब पुलिस के पास से मेरा फोन वापस मिला तो उसमे 2.22 मिनट का वह विडियो भी था जो मैंने मुझे जबरदस्ती उठाये जाते समय बनाया था। जल्द इसे आपके सामने लाऊंगा। इससे पुलिस का झूठ तथा अवैध कृत्य पूरी तरह बेनकाब हो जायेगा। ईश्वर की कृपा कि यह विडियो डिलीट नहीं हुआ।

अमिताभ ठाकुर ने पुराने मोबाइल से सेल्फी भी ली और उसे भी सोशल मीडिया में शेयर किया है। उन पर यूपी पुलिस ने एक दुष्कर्म पीड़िता को आत्महत्या के लिए उकसाने का आरोप लगाया था। इसी आरोप में उन्हें पिछले साल 27 अगस्त को गिरफ्तार करके जेल भेजा गया था। बाद में उन्हें लगभग दो महीना पहले हाईकोर्ट से जमानत मिली।

अमिताभ ठाकुर की सच्चाई देखिए आज उन्होंने उस पुराने मोबाइल नंबर और वाट्सएप नंबर को भी सोशल मीडिया के जरियो सार्वजनिक किया है। उनके ट्विटर हैंडल पर उनका मोबाइल नंबर आप देख सकते हैं।

हिंदू पति की हत्या पर ओवैसी के बयान से संघ की बोलती बंद

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*