जब बड़े नेता मुस्लिम बोलने से घबरा रहे, तब तेजस्वी ने भरी हुंकार

जब बड़े नेता मुस्लिम बोलने से घबरा रहे, तब तेजस्वी ने भरी हुंकार

देश में इतनी नफरत पैदा कर दी गई है कि मुसलमानों के खिलाफ भड़काऊ भाषण पर भी बड़े नेता बोलने की हिम्मत नहीं करते। तेजस्वी ने भरी हुंकार।

आज देश की राजनीति सिद्धातों-विचारों से दूर नफा-नुकसान को देख कर चल रही है। दिल्ली में खुलेआम मुसलमानों को सबक सिखाने की घोषणा की गई। मुसलमानों के संपूर्ण बहिष्कार का आह्वान किया गया, वह भी सत्ताधारी भाजपा के सांसद द्वारा, पर वहां के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का मुंह तक न खुला। उसी दिल्ली में बिहार के उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने हुंकार भरी। मुसलमान दुकानदार से सब्जी नहीं खरीदने के भाजपा सांसद के आह्वान पर कहा कि पेट्रोल-डीजल कहां से लाओगे। हिम्मत है, तो पेट्रोल का बहिष्कार करो, वह तो मुस्लिम देशों से ही आता है।

तेजस्वी यादव ने दिल्ली में राजद के महाधिवेशन में कहा कि भाजपा को देश से कोई मतलब नहीं है। बतािए, भाजपा सा सांसद ज्ञान बांट रहा है कि गुमटी खोलकर दुकान चलानेवाले, ठेले पर सामान बेचनेवाले मुसलमानों से सामान मत खरीदो। कोई भाजपा सांसद को बता दे कि जितना पेट्रोल-डीजल देश में आता है, सब मुसलमानी देश से आता है। क्या पेट्रोल लेना बंद कर देंगे? तेजस्वी ने आगे कहा कि BJP जैसी आग लगाऊ सोच से अगर दूसरे देश चलें तो चुटकियों में हमारे लाखों प्रवासी भारतीय भाई-बहन सड़कों पर आ जाएंगे।

तेजस्वी यादव ने यह भी कहा कि कमजोर वर्गों को सीने से लगाओ, उन्हें मुख्य धारा में लाना हमारा लक्ष्य है। उन्होंने कहा कि देश से नफरत की राजनीति को खत्म करना है। भाजपा को 2024 में सत्ता से बाहर करना है।

तेजस्वी यादव ने खुलकर जिस तरह मुसलमानों के खिलाफ हो रहे हमले पर प्रहार किया, आज देश में कम ही नेता हैं, जो इस तरह खुल कर बोलने की हिम्मत रखते हैं। अरविंद केजरीवाल बार-बार गुजरात जा रहे हैं, पर बिलकिस बानो पर आज तक एक शब्द नहीं बोले। वहीं तेजस्वी ने राष्ट्रीय राजधानी में खुल कर मुसलमानों पर अत्याचार के खिलाफ आवाज उठाई।

कभी अमिताभ को मुलायम ने दिया था सहारा, शोक भी न जताया

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*