कभी विधायकों पर चले थे लात-घूंसे, अब विस अध्यक्ष पर भड़के CM

कभी विधायकों पर चले थे लात-घूंसे, अब विस अध्यक्ष पर भड़के CM

कभी बिहार विधानसभा में विधायकों पर चले थे लात-घूंसे, अब अध्यक्ष पर भड़के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार। अध्यक्ष सुना जाए-सुना जाए कहते रहे और मुख्यमंत्री…।

बिहार विधानसभा में अध्यक्ष पर मुख्यमंत्री भड़क गए। विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार सिन्हा मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को सुना जाए-सुना जाए, आसन की बात सुना जाए कहते रहे, लेकिन मुख्यमंत्री नीतीश कुमार बिना रुके भड़कते रहे। जिसका वीडियो देसभर में वायरल हो गया है।

वरिष्ठ अधिवक्ता प्रशांत भूषण ने वीडियो शेयर करते हुए लिखा-मुख्यमंत्री ‘सुशासन बाबू’ अब अपने आप को राजा समझने लगे हैं।

वीडियो में दिख रहा है कि किसी विधायक द्वारा एक मामले में पुलिस कार्रवाई के संबंध में पूछे जाने से मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भड़क गए हैं। विधानसभा अध्यक्ष बार-बार मुख्यमंत्री से सुना जाए-सुना जाए कह रहे हैं, पर मुख्यमंत्री बिल्कुल सुनने को तैयार नहीं हैं। जबकि परंपरा यह है कि अध्यक्ष के रोकने पर सदस्य बोलना रोक देते हैं और अध्यक्ष की बात सुनते हैं। मालूम हो कि इन्हीं विधानसभा अध्यक्ष के कार्यकाल में विधायकों के साथ मारपीट की गई थी। सदन में पहली बार पुलिस घुसी थी, लेकिन तब विधानसभा अध्यक्ष ने सदन की गरिमा के लिए ऐसा कोई कदम नहीं उठाया, जो उदाहरण बन सकता। और आज उन्हीं की बात नहीं सुनी गई।

राजद ने इस घटना पर कहा-CM नीतीश कुमार की मानें तो माननीय विधायक, सदन और सभापति के पास कोई अधिकार नहीं हैं! विधानसभा बस हो हल्ला मचाकर विपक्ष को धमकाने और उनके विधायकों को पिटवाने के लिए है! सर्वोच्च न्यायालय ने ठीक फ़रमाया कि “बिहार में पूर्णतः पुलिस राज है!” और इसका श्रेय नीतीश कुमार को ही जाता है!

एनडीटीवी के पत्रकार मनीष ने ट्वीट किया-बिहार विधान सभा में उस समय ⁦@NitishKumar⁩ अपना आपा खो बैठे जब विधान सभा अध्यक्ष के विधान सभा क्षेत्र के सवाल पर उन्होंने अध्यक्ष विजय सिन्हा का नियमन सुना.

बिहार : मंत्री ने की बुलडोजर की बात, तेजस्वी ने युवकों को ललकारा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*