ललन का इस्तीफा, नीतीश बने नए अध्यक्ष, क्या होगा आगे?

ललन का इस्तीफा, नीतीश बने नए अध्यक्ष, क्या होगा आगे?

ललन का इस्तीफा, नीतीश बने नए अध्यक्ष, क्या होगा आगे? दिल्ली में राष्ट्रीय परिषद की बैठक जारी। नीतीश की भावी रणनीति पर सबकी निगाहें।

जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह ने पद से इस्तीफा दे दिया है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अध्यक्ष पद स्वीकार कर लिया है। कार्यकारिणी की बैठक में ललन सिंह ने इस्तीफा दिया और नीतीश कुमार का नाम भी प्रस्तावित किया, जिसे नीतीश ने स्वीकार कर लिया। इसके बाद शाम को राष्ट्रीय परषद की बैठक में इसका अनुमोदन किया जाएगा। इसी के साथ अब नीतीश कुमार की भावी रणनीति को लेकर चर्चा शुरू हो गई है।

माना जा रहा है कि नीतीश कुमार इंडिया गठबंधन में अपनी दावेदारी मजबूत करना चाहते हैं। दिल्ली में जदयू दफ्तर के आस-पास देश का नेता नीतीश कुमार जैसे पोस्टर-बैनर लगाए गए हैं। बिहार ने देखा अब देश देखेगा नारे के साथ भी एक कटआउट लगा है।

मीडिया में कई तरह की खबरें चल रही हैं। कहा जा रहा है कि नीतीश कुमार अब भाजपा के साथ भी जा सकते हैं, वहीं यह भी कहा जा रहा है कि अब वे देशभर में इंडिया गठबंधन की जीत के लिए दौरा करेंगे। विभिन्न राज्यों में रैली और प्रेस वार्ता करेंगे। एक खबर में कहा गया है कि नीतीश कुमार कांग्रेस से नाराज हैं और लोकसभा चुनाव में कांग्रेस को चार सीटें देंगे।

कार्यकारिणी की बैठक के बाद राज्य सरकार में मंत्री विजय चौधरी ने कहा कि ललन सिंह ने स्वेच्छा से त्यागपत्र दिया है। उन्होंने बैठक में कहा कि वे चुनाव में व्यस्त रहेंगे, इसीलिए पार्टी का कार्य संभालने में परेशानी होगी। इसके बाद उन्होंने त्यागपत्र की पेशकश की, जिसे कार्यकारिणी ने स्वीकार कर लिया। मंत्री श्रवण कुमार ने मीडिया से कहा कि नीतीश कुमार प्रधानमंत्री पद के दावेदार नहीं हैं। वे देश के सभी विपक्षी दलों को एकजुट करना चाहते हैं। वे 2024 लोकसभा चुनाव में भाजपा को परास्त करना चाहते हैं। अब वे खुद अध्यक्ष होंगे, तो विपक्षी दलों के लिए ज्यादा बेहतर तरीके से निर्णय ले सकेंगे।

BJP के हाथों बिक चुका मीडिया लोकतंत्र के लिए बड़ा खतरा : राहुल