OBC नहीं हैं मोदी, राहुल के बाद अब अखिलेश ने किया हमला

OBC नहीं हैं मोदी, राहुल के बाद अब अखिलेश ने किया हमला

OBC नहीं हैं मोदी, राहुल के बाद अब अखिलेश ने किया हमला। कहा, कुछ लोग जन्म से नहीं, सर्टिफिकेट से ओबीसी हैं। राहुल गांधी ने पीएम के ओबीसी दावे पर कसा था तंज।

कांग्रेस नेता राहुल गांधी के बाद अब सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ओबीसी होने के दावे पर बड़ी बात कह दी। उन्होंने कहा कि कुछ लोग जन्म से ओबीसी नहीं हों, सर्टिफिकेट से ओबीसी हैं। इससे पहले राहुल गांधी ने ओड़िशा- छत्तीसगढ़ की सीमा पर भारत जोड़ो न्याय यात्रा के दौरान एक सभा को संबोधित करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री मोदी जन्म से ओबीसी नहीं है, बल्कि उन्हें सरकार ने ओबीसी बनाया है। जब वे मुख्यमंत्री थे, तब एपनी जाति को ओबीसी में शामिल किया। अब राहुल गांधी के बयान का अखिलेश यादव ने समर्थन किया, तो राजनीति गरमा गई। याद रहे उत्तर प्रदेश में अखिलेश यादव पीडीए यानी पिछड़ा, दलित और अल्पसंख्यक की रणनीति पर काम कर रहे हैं। यूपी में प्रधानमंत्री मोदी के जन्म से ओबीसी नहीं होने का मामला गरमाया तो भाजपा को नुकसान हो सकता है।

सपा प्रमुख अखिलेश यादव गुरुवार को वाराणसी पहुंचे। यहां पत्रकारों से बात करते हुए उन्होंने भाजपा पर जम कर हमले किए। कहा कि आज महंगाई, बेरोजगारी का जवाब है इनके पास? सोचो हमारा नौजवान इजराइल जा रहा है, वॉर जोन में नौकरी करने। बीजेपी के लोगों ने हमारे पढ़े-लिखे नौजवानों को डिलीवरी बॉय बना दिया।

उन्होंने कहा जिस सरकार ने ये कहा कि 40 लाख करोड़ रुपए का एमओयू हुआ है। आप बताइए जमीन पर क्या पहुंचा है? जो मुख्यमंत्री बिजली का एक भी कारखाना नहीं लगाए वो सुपरकंडक्टर और सेमीकंडक्टर की बात कर रहे हैं। सपा प्रमुख ने प्रधानमंत्री के चार सौ सीट जीतने के दावे पर कहा कि जो लोग सोचते थे हट नहीं सकते सत्ता से, अभी घोसी का परिणाम आया था, 50 हज़ार वोटों से जनता ने हरा दिया। जनता की ताकत सबसे बड़ी होती है। अब राजनीतिक गलियारे में अखिलेश यादव और राहुल गांधी की संयुक्त सभा को इंतजार किया जा रहा है। माना जा रहा है कि दोनों नेताओं के साथ आने के बाद यूपी की राजनीति बदल सकती है।

पूर्वी चंपारण : युवती का शव मिलने से हंगामा, पुलिस कर रही जांच