नौतन नाव हादसे में मृतक परिवारों को मिले मुआवजा : मंजुबाला

नौतन नाव हादसे में मृतक परिवारों को मिले मुआवजा : मंजुबाला

बाबु धाम ट्रस्ट की अध्यक्षा मंजुबाला पाठक ने बिहार सरकार से भगवानपुर नाव हादसे में मृतकों के परिजनों को मुवावजा और घायलों के मुफ्त इलाज की मांग की।

नौतन के भगवानपुर में बुधवार को हुए नाव हादसे में डूबकर मरे व्यक्तियों के परिवारों को बिहार सरकार मुआवजा दे। बुधवार को भगवानपुर घाट से भगवानपुर दियारा जाने के लिए गन्ना छिलने वाले लोगों ने एक नाव पर ट्रैक्टर लाद दिया था। उसी क्रम में हादसा हो गया।

संवाददाताओं से बात करते हुए मंजुबाला पाठक ने बिहार सरकार से मृतकों के परिजनों को मुवावजा और गंभीर रूप से घायलों को भी तत्काल मुफ्त ईलाज की मांग किया।

आपको बताते चलें की मंजुबाला पाठक शुरू से ही गंडक नदी पर नौतन के भगवानपुर और आसपास के इलाकों के समुचित आवागमन के लिए एक और पुल की मांग बिहार सरकार से करते आ रही हैं। परंतु सरकार ने गंडक नदी पर पुल तो बनवाया परंतु उतनी नहीं जितनी की आवश्यकता है।

बाबु धाम ट्रस्ट की अध्यक्षा शुरु से ही सामाजिक कार्यों में रुचि रखती है और प्राकृतिक आपदा के समय भी वो अपने ट्रस्ट के माध्यम से सदैव मदद के लिए आगे रहती है। फिर वो चाहे कोरोना हो या बाढ़ की विभीषिका, हर जगह बाबु धाम ट्रस्ट की सराहनीय योगदान रहा हैं।

बाबु धाम ट्रस्ट की अध्यक्षा ने प्राकृतिक आपदाओं के समय कपड़े, साड़ियां , अनाज, दवाएं और जरूरी सामानों की निःशुल्क वितरण किया है और यह अनवरत चालू हैं। पिछले साल से ट्रस्ट की अध्यक्षा मंजुबाला पाठक ने बाढ़ की विभीषिका को देखा और जगह जगह उन्होंने चंपारण के प्राभावित इलाकों का दौरा किया और साथ ही कोरोना के समय मास्क,अनाज, पक्का पकाया भोजन और सेनेटाइजेशन कार्यक्रम बृहद रूप से किया और यह अनवरत रूप से चालू हैं।

चंपारण की पतोहु मंजुबाला ने चंपारण के लोगों के बीच रहकर उनकी सेवा को अपने जीवन का माध्यम मान लिया है और वो सभी वर्गो, क्षेत्रों और लोगों के बिच काम करने को लेकर सदैव उत्साहित रहती है और स्वयं ट्रस्ट द्वारा चलाए जा रहे कार्यों का फीडबैक लेती रहती हैं। इसी क्रम में नाव हादसे में मृतक परिवारों के बीच अपनी संवेदना व्यक्त किया और बिहार सरकार से परिजनों को मुआवजा देने की मांग किया।

AMU छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष कांग्रेस प्रत्याशी के जिला प्रवेश पर रोक