निकहत से मिलीं मैरी कॉम, अशोक पांडेय ने की पुरस्कार की पेशकश

निकहत से मिलीं मैरी कॉम, अशोक पांडेय ने की पुरस्कार की पेशकश

बॉक्सिंग में देश का नाम ऊंचा करनेवाली निकहत जरीन के लिए अबतक सरकारों ने कोई पुरस्कार का एलान नहीं किया। लेखक अशोक कुमार पांडेय ने की पुरस्कार की पेशकश।

निकहत जरीन ने विश्व बॉक्सिंग चैंपियनशिप में गोल्ड हासिल करके दुनिया में भारत का नाम रोशन किया, लेकिन अब तक किसी सरकार ने उनके लिए किसी सम्मान या पुरस्कार का एलान नहीं किया। उसने गांधी को क्यों मारा, कश्मीर और कश्मीरी पंडित, सावरकर जैसी कई पुस्तकों के लेखक और इतिहास को तोड़-मरोड़कर नफरत फैलाने के खिलाफ लगातार अभियान चला रहे लेखक अशोक कुमार पांडेय ने निकहत के लिए अपनी तरफ से 10 हजार रुपए के साथ पुरस्कृत करने की पेशकश की है। इस पेशकश को दो तरह से देखा जा सकता है, पहला यह कि उनकी पेशकश के बाद सरकारों को कुछ तो लाज आए! अब भी बहुत देर नहीं हुई है, पुरस्कारों का एलान करें और दूसरा इस अर्थ में समझा जा सकता है कि अगर सरकारें देश की प्रतिभाओं की हौसलाआफजाई में भी अपना लाभ-हानि देख रही हैं, तो देश का नागरिक समुदाय अपनी युवा प्रतिभा की हौसलाआफजाई के लिए आगे आए।

इस बीच पूर्व विश्व बॉक्सिंग चैंपियन मैरी कॉम आज निकहत से मिलीं। उन्होंने निकहत को उसके शानदार प्रदर्शन के लिए बधाई दी। उम्मीद है, अन्य सीनियर खिलाड़ी भी मैरी कॉम का अनुसरण करेंगे।

लेखक अशोक कुमार पांडेय ने ट्वीट किया- मैं इंतज़ार कर रहा था कि स्वर्णिम सफलता के बाद निकहत परवीन को राज्य या केंद्र सरकारें इनाम-ओ-इकराम देंगी। लेकिन आश्चर्य कि कोई आगे नहीं आया। ख़ैर एक नागरिक के रूप में मैं विनम्रतापूर्वक उन्हें 10000/ रुपए की राशि देना चाहता हूँ। यदि कोई उनसे कनेक्ट कर सके तो कृपा होगी। सोशल मीडिया पर कई लोगों ने इस प्रयास की सराहना की है। लेखक की इस पहल के बाद उम्मीद है, अन्य लोग और संगठन भी सामने आएंगे।

राज्यसभा : सिब्बल सपा प्रत्याशी, अब RJD टिकट किसी मुस्लिम को

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*