नॉनवेज खाने पर सिर फोड़ने के खिलाफ दिल्ली में प्रदर्शन

नॉनवेज खाने पर सिर फोड़ने के खिलाफ दिल्ली में प्रदर्शन

दो साल पहले JNU छात्रों-शिक्षकों को पीटने वाले आज तक गिरफ्तार नहीं हुए। कल फिर एबीवीपी ने नॉनवेज परोसने पर मेस सेक्रेटरी को पीटा। प्रदर्शनकारी हिरासत में।

कल रविवार को जेएनयू में भाजपा से जुड़े विद्यार्थी परिषद कार्यकर्ताओं ने मेस में नॉनवेज बनाए जाने पर हंगामा किया। जेएनयू छात्र संघ ने कहा कि परिषद कार्यकर्ताओं ने मेस सेक्रेटरी तथा छात्रों पर हमला किया। एक छात्रा के सिर से बहते खून वाली तस्वीर सोशल मीडिया पर खूब देखी गई। वहीं देश के प्रमुख अखबारों ने इस खबर को प्रकाशित ही नहीं किया।

कल की घटना के बाद आज जेएनयू छात्रों तथा आइसा के कार्यकर्ताओं ने दिल्ली में हमलावर परिषद कार्यकर्ताओं की गिरफ्तारी की मांग पर प्रदर्शन किया। प्रदर्शनकारी सभी छात्रों को पुलिस ने हिरासत में ले लिया। छात्रों ने दिल्ली पुलिस मुख्यालय के सामने प्रदर्शन किया, जहां उन्हें हिरासत में लिया गया। पुलिस ने उन्हें तुगलक बाग पुलिस थानमें रखा, जहां वे लगातार नारे लगा कर विरोध जता रहे हैं। इससे पहले 2020 में जेएनयू के भीतर घुस कर छात्रों तथा शिक्षकों को पीटने वाले आज तक गिरफ्तार नहीं हुए। जबकि हमलावरों के नाम और वीडियो भी प्रमाण के रूप में मौजूद हैं।

जएनयू में छात्रों पर हमले के खिलाफ आज लखनऊ में भी प्रदर्शन हुआ। यहां आइसा और कांग्रेस से जुड़े छात्र संगठन एनएसयूआई ने प्रदर्शन किया।

फिल्म निर्माता विनोद कापरी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को टैग करते हुए लिखा-लाज नहीं आती ऐसी तस्वीरों पर @narendramodi ? नफ़रत, ज़हर, खून से भर दिया है देश को !!

पत्रकार प्रियदर्शन ने लिखा-

कहीं हुंकार है कहीं जय जयकार है

राम क्या ये तुम्हारा नया अवतार है?

कैसी ये आस्था है मर्यादा पुरुषोत्तम

तुम्हारे भी हाथ में बस तीर-तलवार है

सोने की लंका का बज रहा है डंका

अयोध्या में सजा हुआ रावण दरबार है

धर्म का मर्म नहीं, पुनीत कोई कर्म नहीं

तुलसी वाल्मीकि को अब पढ़ना बेकार है।

ये कैसी रामनवमी, मस्जिद के सामने उत्तेजक नारे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*