ऑक्सीजन पर जीएसटी लेनेवाले किसानों को भी ठग रहे : राजद

ऑक्सीजन पर जीएसटी लेनेवाले किसानों को भी ठग रहे : राजद

भाजपा सरकार महामारी में भी जनता को लूटने और ठगने से बाज नहीं आ रही। वह ऑक्सीजन पर जीएसटी वसूल रही है। किसानों को भी सब्सिडी के नाम पर ठग रही है।

आज ही दिल्ली हाईकोर्ट ने केंद्र सरकार को निजी उपयोग के लिए ऑक्सीजन पर जीएसटी लेने पर फटकार लगाई है। हाईकोर्ट ने कहा कि ऑक्सीजन कंसंट्रेटर पर आईजीएसटी न लगे और न ही विदेशों से उपहार में मिले कंसंट्रेटर पर लगे। केंद्र सरकार अभी 12 प्रतिशत आईजीएसटी लगती है। राजद प्रवक्ता चितरंजन गगन ने कहा कि ऑक्सीजन पर टैक्स लेनेवाली केंद्र सरकार किसानों को भी ठग रही है।

राजद प्रदेश प्रवक्ता चित्तरंजन गगन ने खाद सब्सिडी के नाम पर किसानों के साथ धोखाधड़ी करने का आरोप लगाया। कहा-उप मुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद और पूर्व उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी खाद सब्सिडी पर झूठी वाहवाही लूटने की कोशिश कर रहे हैं। सच्चाई यह है कि बिलकुल फिल्मी स्टाइल में डीएपी की कीमत में 58 प्रतिशत की वृद्धि के साथ ही प्रति बैग की कीमत 1200 से बढ़ाकर 1900 रुपया कर दिया गया था।

हिंदू डॉक्टर ने अंतिम सांस ले रहे मरीज के कान में पढ़ा कलमा

एनपीके में 52 प्रतिशत की वृद्धि के साथ प्रति बैग की कीमत 1175 से बढ़ाकर 1790 रुपया, एपीएस में 46 प्रतिशत की वृद्धि के साथ प्रति बैग की कीमत 925 से 1350 रूपया और पोटाश की कीमत को लगभग दोगुना करते हुए प्रति बैग की कीमत 875 रूपया से बढ़ाकर 1725 कर दिया गया है।

अस्पतालों की दुर्दशा पर आक्रामक तेजस्वी से घबराया आईटी सेल

जब खादों की कीमत अप्रत्याशित वृद्धि का विरोध हुआ, तो केवल डीएपी की कीमत में वृद्धि को वापस लिया गया। इसी को ऐतिहासिक निर्णय बताकर प्रचारित किया जा रहा है कि खाद पर केन्द्र सरकार 140 प्रतिशत अनुदान देने जा रही है। जबकि सच्चाई है कि डीएपी पहले जैसे प्रति बैग की कीमत 1200 रूपया था, अब भी उसी कीमत पर मिलेगी। अन्य खादों की कीमतों में लगभग 50 प्रतिशत से 100 प्रतिशत तक की गयी वृद्धि में कोई कमी नहीं की गई है। जबकि एनडीए शासनकाल में पहले भी खादों की कीमतों में भारी बढ़ोतरी की जा चुकी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*