पाकिस्तानी गीत सुनने पर किशोरों की गिरफ्तारी पागलपन है : कांग्रेस

पाकिस्तानी गीत सुनने पर किशोरों की गिरफ्तारी पागलपन है : कांग्रेस

कभी वाजपेयी ने पाकिस्तानी गायकों की सराहना करते हुए पत्र लिखा था, आज गीत सुनने पर दो नाबालिगों की गिरफ्तारी। कांग्रेस प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत ने कहा-

पाकिस्तानी गायकों के गीत सुनने पर दो नाबालिगों की गिरफ्तारी पर कांग्रेस प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के एक पत्र की कॉपी के साथ कहा-जब दो नाबालिग़ लड़कों को पाकिस्तानी गाने सुनने पर उप्र में जेल होती है तब साफ़ है जाहिलियत अब पागलपन बन चुकी है मैं मेहदी हसन, ग़ुलाम अली, आबिदा परवीन, नुसरत फ़तह अली खान का संगीत सुनती हूं। अटल जी मेहदी हसन की ग़ज़लों के क़ायल थे, उनका लिखा ख़त है यह। क्या बनते जा रहे हैं हम?

कांग्रेस प्रवक्ता ने अटल बिहारी वाजयेपी का वह पत्र भी शेयर किया, जिसमें उन्होंने प्रधानमंत्री रहते मेहंदी हसन को पत्र लिखा है। पत्र में वाजपेयी ने जनाब मेहंदी हसन साहब कहकर संबोधित किया है। सुप्रिया श्रीनेत के ट्विटर पोस्ट के साथ वह पत्र देखा जा सकता है।

मालूम हो कि उत्तर प्रदेश के बरेली में दो नाबालिगों को पुलिस ने हिरासत में लिया है। मामला बुधवार का है। दोनों नाबालिग पाकिस्तानी गाना सुन रहे थे। उन पर कई धाराएं लगाई गई हैं, जिनमें राष्ट्रीय एकता को नुकसान पहुंचाने, उकसाने के आरोप हैं। पुलिस ने यह कार्रवाई सोशल मीडिया में चल रहे एक वीडियो के आधार पर की है, जिसे आशीष नाम के व्यक्ति ने रिकार्ड किया था। उसने इसे सोशल मीडिया में अपलोड किया।

18 और 17 साल के दो नाबिलग पाकिस्तानी बाल कलाकर अयात आरिफ का पाकिस्तान जिंदाबाद गीत सुन रहे थे। द वायर ने दोनों नाबालिगों के एक संबंधी का बयान प्रकाशित किया, जिसमें उन्होंने कहा कि यह गीत गलती से बज गया। दोनों किशोरों ने इसे सिर्फ 40 सेकेंड बजाया। बाद में दोनों ने अपनी गलती के लिए माफी बी मांगी।

महाराष्ट्र से तमिलनाडु तक अचानक क्यों छा गए जीतन राम मांझी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*