Pegasus पर NYT का खुलासा, ‘देशद्रोही है मोदी सरकार’

Pegasus पर NYT का खुलासा, ‘देशद्रोही है मोदी सरकार’

NYT के खुलासे से दुनियाभर में हंगामा हो गया है। अखबार ने कहा, भारत ने Pegasus जासूसी सॉफ्टवेयर खरीदा। राहुल गांधी ने कहा- मोदी सरकार देशद्रोही है।

NYT के खुलासे के बाद दिल्ली में पेगासस मामले पर प्रदर्शन करते युवा कांग्रेसी

अमेरिकी अखबार न्यूयॉर्क टाइम्स ने बड़ा खुलासा किया है। अखबार ने अपनी पड़ताल में पाया कि भारत सरकार ने इजराइल से पेगासस जासूसी स्पाइवेयर खरीदा था। यह खरीद भारत के लोगों के पैसे से 2 अरब डॉलर में की गई।

एनवाईटी लिखता है- नरेंद्र मोदी हिंदुत्व की भावना उभार कर चुनाव जीते और 2017 में इजराइल पहुंचे। वे इजराइल जानेवाले पहले प्रधानमंत्री थे। इससे पहले दशकों तक भारत की नीति फिलिस्तीन के पक्ष में थी। इजराइल के साथ भारत के संबंध बहुत ही साधारण स्तर के थे। मोदी इजराइल में प्रधानमंत्री नेतनयाहू के साथ गर्मजोशी से मिले। समुद्र किनारे दोनों हंस-हंस कर मिले, जिसका खूब प्रचार किया गया। दोनों की खुशी की वजह थी। दोनों देश आधुनिक हथियार के सौदे पर सहमत हुए थे, जिसमें पेगासस स्पाइवेयर भी शामिल था। कुछ महीने बाद नेतनयाहू भी भारत गए। 2019 में फिलिस्तीन-इजराइल विवाद में मानवाधिकार के मामले पर भारत ने यूएन में इजराइल के पक्ष में वोट दिया। ऐसा करनेवाला भारत पहला देश था।

इस खुलासे के बाद भारत में हंगामा हो गया। राहुल गांधी ने आक्रामक ट्वीट किया। कहा- मोदी सरकार ने हमारे लोकतंत्र की प्राथमिक संस्थाओं, राज नेताओं व जनता की जासूसी करने के लिए पेगासस ख़रीदा था। फ़ोन टैप करके सत्ता पक्ष, विपक्ष, सेना, न्यायपालिका सब को निशाना बनाया है। ये देशद्रोह है।

मोदी सरकार ने देशद्रोह किया है।

आज युवा कांग्रेस ने इसी मुद्दे पर दिल्ली में प्रदर्शन किया। सोशल मीडिया पर #Pegasus दूसरे स्थान पर ट्रेंड कर रहा है। तमाम लोग मोदी सरकार की इस करतूत की निंदा कर रहे हैं।

राज्यसभा सदस्य सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा कि मोदी सरकार ने सुप्रीम कोर्ट और देश की संसद को गुमराह किया। वरिष्ठ अधिवक्ता प्रशांत भूषण, सहित तमाम राजनीतिक-समाजिक कार्यकर्ता, बुद्धिजीवी मोदी सरकार की इस कार्रवाई की निंदा कर रहे हैं।

पढ़ाना छोड़ अब दारूबाजों की जासूसी करेंगे शिक्षक, RJD का विरोध