PK ने तेजस्वी पर ओछी टिप्पणी की, तो राजद ने धरकच दिया

PK ने तेजस्वी पर ओछी टिप्पणी की, तो राजद ने धरकच दिया। जानिए RJD प्रवक्ता ने उनकी यात्रा को डाटा चोरी यात्रा क्यों कहा, एक ने सियासी ठेकेदार कहा, एक ने…।

जुन सुराज के नेता प्रशांत किशोर ने तेजस्वी यादव पर व्यक्तिगत और ओछी टिप्पणी तो राजद नेताओं-समर्थकों ने धरकच दिया। प्रशांत किशोर ने कहा कि तेजस्वी यादव क्रिकेट नहीं खेलते थे, खिलाड़ियों के लिए पानी ढोते थे। पिता की बनाई पार्टी के नेता बन गए। खुद कुछ नहीं किया। इसके बाद तो राजद नेताओं, कार्यकर्ताओं ने धर के रगड़ दिया।

जेएनयू की रिसर्च स्कॉलर और राजद की राष्ट्रीय प्रवक्ता कंचन यादव ने कहा डाटा चोर प्रशांत कुमार पांडे। मोदी सरकार का स्पेशल प्राइवेट एजेंट जो आजकल जन सुराज यात्रा लेकर चलता है। दरअसल वह डाटा चोर यात्रा है। प्रशांत किशोर उर्फ़ प्रशांत पांडे लोगों के बीच में जाता है, उनसे उनका डिटेल पूछता है, सब डाटा इकट्ठा करता है फिर बीजेपी को वह करोड़ों में बेचता है। बिहारवासियों इस डाटा चोर से सतर्क रहें। आपके बारे में जासूसी करके, उसे बेचकर करोड़ों रुपए लेता है। यह बीजेपी का इंप्लांटेड प्राइवेट एजेंट है।

राष्ट्रीय प्रवक्ता प्रो. सुबोध कुमार मेहता ने कहा प्रशांत किशोर एक ‘राजनीतिक ठेकेदार’ हैं, पैसे लेकर चुनावों को व्यापार, मतदाताओं को मूर्ख और जनादेश को मज़ाक समझते हुए खरबों रुपये का चुनावी ठेका लेते हैं और बिना विचारधारा वाली अपनी दुकान लगाते हैं। और अभी जब राजनीति में आए हैं तो भी पैसे ही लेकर ही एक पार्टी विशेष के लिए ही काम कर रहे हैं, उसी पार्टी के आदेश पर घटिया और अपरिपक्व बयानबाजी कर रहे हैं जो उनकी हताशा को दिखाता है। प्रशांत किशोर को ज्ञान नहीं है कि जॉर्ज वाशिंगटन, एब्राहम लिंकन, विंस्टन चर्चिल, जैकब ज़ूमा जैसे महान राजनेताओं ने औपचारिक शिक्षा ग्रहण नहीं की थी। भारत में के कामराज, करुणानिधि और जे जयललिता जी ने भी स्कूली शिक्षा ग्रहण नहीं की थी।

@yadavtejashwi जी लाखों नौकरी दे रहे हैं, बहुत अच्छे से #सरकार का काम देख रहे हैं, स्वास्थ्य, पर्यटन, पथ निर्माण का काम संभाल रहे हैं, #जातिगत_जनगणना से प्रशांत किशोर या BJP जैसे जातिवादियों के मंसूबों पर पानी फेर रहे हैं। उधर बिहार की जनता ने भी उन्हें लताड़ दिया है, इस बात की हताशा में Prashant Kishor का मानसिक संतुलन बिगड़ गया है।

राजद के सोशल मीडिया ग्रुप से जु़ड़े आलोक चिक्कू ने कहा पीके के लिए लिखा-डिजिटल चंद्रास्वामी उर्फ प्रशांत किशोर! आगे कहा यह बहुत बड़ा जातिवादी, सांप्रदायिक और फ्रॉड है। कई लोगों ने इस पर फर्जीवाडे के केस भी किए हुए है।इसकी पार्टी में तनख़्वाह पर कार्य कर रहे अथवा कार्य कर चुके कर्मचारी/कार्यकर्ता इसकी अनेकों बार पोल खोल चुके है। उस पूँजीपति को यह कभी भी कुछ नहीं बोलता। बंगाल में बीजेपी को प्रथम बार 70 से अधिक सीटें इसी की ग़द्दारी और बीजेपी के साथ गुप्त आँकड़े साँझा करने के कारण ही आई अन्यथा TMC को तो 2016 में भी लगभग 2021 जितनी ही सीटें आयी थी। इस फ्रॉड को बिहार में कुछ अटेंशन नहीं मिल रहा है तो यह हमारे नेता पर ऊल-जुलूल बोलता है ताकि इसे लाइमलाइट मिलें। ऐसे छपास पीड़ितों को बिना प्रचार के कुढ़ने देने चाहिए। क्या प्रशांत किशोर पांडे इन बातों खंडन कर सकता है?

राजद प्रवक्ता जयंत जिज्ञासु ने कहा यह ‘जनसुराज’ यात्रा नही, बल्कि “डेटा कलेक्शन फॉर बीजेपी यात्रा” हो रही है जिसमें जुटाया गया डेटा बीजेपी दफ़्तर में जाकर बेच दिया जाएगा। बंगाल मे ममताजी के साथ PK पांडे गद्दारी न करते, पार्टी के तपे तपाये कार्यकर्ताओ द्वारा मुहैया कराये गये अंदरूनी आंकडे BJP को लीक न करते तो वहां BJP इस स्थिति में न आती। तो यह गद्दार आदमी मौजूदा हुकूमत के लिए प्रछन्न रूप से काम कर रहे हैं। बंगाल मे BJP को प्रथम बार 70 से अधिक सीटें इन्ही की गद्दारी और BJP के साथ गुप्त आँकड़े साझा करने के कारण ही आईं, अन्यथा तृणमूल कांग्रेस को तो 2016 मे भी लगभग 2021 जितनी ही सीटें आयी थीं।

तेजस्वी के खिलाफ उग्र बोल RJD का नहीं, BJP का नुकसान कर रहे PK

By Editor


Notice: ob_end_flush(): Failed to send buffer of zlib output compression (0) in /home/naukarshahi/public_html/wp-includes/functions.php on line 5420