पीएम मोदी ने स्वीकारा, आज उनसे नहीं बन सकेगा संविधान

पीएम मोदी ने स्वीकारा, आज उनसे नहीं बन सकेगा संविधान

संविधान दिवस पर पीएम मोदी ने ऐसी बात कही कि सोशल मीडिया में कमेंट्स पर कमेंट्स किए जा रहे हैं। मोदी ने कहा आज संविधान का एक पन्ना भी लिखना संभव नहीं।

कुमार अनिल

आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संविधान दिवस पर आयोजित एक कार्यक्रम में ऐसी बात कह दी कि विरोधी भाजपा समर्थकों, वाट्सएप यूनिवर्सिटी के लोगों को कटघरे में खड़ा कर रहे हैं। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा-कल्पना करिए कि अगर आज हमें संविधान तैयार करना हो। आज की स्थिति को देखते हुए, शायद हम संविधान का एक पन्ना भी नहीं लिख सकेंगे। एनडीटीवी ने प्रधानमंत्री मोदी के भाषण का यह हिस्सा वीडियो सहित ट्वीट किया है।

‘उसने गांधी को क्यों मारा’ जैसी जरूरी पुस्तक के लेखक अशोक कुमार पांडेय ने प्रधानमंत्री के वक्तव्य के साथ ट्वीट किया- बिल्कुल सही। इसीलिए ट्राइ मत करिए। उनका इशारा संविधान की मूल आत्मा-लोकतंत्र, धर्मनिरपेक्षता, बराबरी, सबको न्याय जैसे मूल्यों पर लगातार हमले की तरफ था। पूरे स्वतंत्रता आंदोलन को खारिज करने वालों को उन्होंने निशाने पर लिया। अशोक पांडेय से एक भक्त बिगड़ गया। उसने ट्वीट किया-आपके अनुसार यह कार्य केवल नेहरू कर सकते हैं। अशोक पांडेय भक्तों को जवाब देने से पीछे नहीं हटते। उन्होंने फिर लिखा-नेहरू legend (दिव्य पुरुष या दिग्गज) थे। उनकी टीम legend की टीम थी-पटेल, आंबेडकर, मौलाना, जयपाल सिंह मुंडा और अनकी तरह अनेक।

दीपक कुमार सोनकर ने लिखा-इन्हें तो केवल मनुस्मृति की भाषा समझ में आती हैं। संविधान की भाषा समझ आती तो 700 से अधिक किसानों की शहादत नहीं होती। ट्विटर पर #संविधान_किसान_हत्यारी_भाजपा ट्रेंड कर रहा है।

इस बीच संविधान दिवस पर आयोजित कार्यक्रम में कांग्रेस सहित प्रमुख 14 विपक्षी दलों के सांसदों ने हिस्सा नहीं लिया। कांग्रेस के आनंद शर्मा ने कहा-कार्यक्रम में नहीं जाने की वजह है- भाजपा की सरकार निरंतर संवैधानिक संस्थाओं पर चोट पहुंचा रही है, संवैधानिक नियमों का उल्लंघन हो रहा है।

शपथ शराबबंदी : तेजस्वी ने बताया नीतीश ने कैसे तोड़ी शपथ

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*