Rahul से मिल Kuki चरमपंथी ने किया सरेंडर, अब गांधी के रास्ते चलेंगे

Rahul से मिल Kuki चरमपंथी ने किया सरेंडर, अब गांधी के रास्ते चलेंगे। राहुल ने दूसरे दिन मणिपुर में पोंछे आंसू। कहा, मणिपुर को शांति चाहिए। मैं हाजिर हूं।

राहुल गांधी ने मणिपुर यात्रा के दूसरे दिन राहत शिविर में रह रहे बच्चों तथा अन्य लोगों से मुलाकात की। उन्हें देखकर कई लोग रोने लगे। राहुल ने उन्हें हिम्मत बंधाई। वे बच्चों के साथ भी मिले। सबसे खास बात यह हुई कि उनसे मुलाकात के बाद एक कुकी तरम पंथी ने पुलिस के सामने आत्मसमर्पण कर दिया। इसके बाद उसने कहा कि वह आज और अभी से हिंसा का पथ छोड़ रहा है, तथा आगे वह महात्मा गांधी के बताए रास्ते पर चलेगा।

राहुल गांधी ने यात्रा के दूसरे दिन दिल्ली लौटने से पहले पत्रकारों से बात की। एक पत्रकार ने पूछा कि आप आए, पर प्रधानमंत्री मोदी अभी तक मणिपुर नहीं आए। इस पर राहुल गांधी ने कोई जवाब नहीं दिया। वे सिर्फ यही कहते रहे कि मणिपुर को शांति चाहिए। हिंसा से कोई समस्या का हल नहीं होता। उन्होंने कहा कि -मैं हाजिर हूं। शांति स्थापित करने के लिए मेरी जहां भी जरूरत होगी, मैं खड़ा रहूंगा। उन्होंने ट्वीट भी किया-हिंसा से कुछ नहीं होने वाला है – प्रदेशवासियों से अपील है कि हमें शांति की ओर चलने की ज़रूरत है। मणिपुर को जोड़ने के लिए, अमन के लिए, मैं हर मदद करने को तैयार हूं!

सोशल मीडिया में राहुल गांधी लगातार दो दिनों से ट्रेंड कर रहे हैं। उनके मणिपुर जाने पर भाजपा सकते में हैं। असम के मुख्यमंत्री ने राहुल की मणिपुर यात्रा को नाटक कहा। इस बीच सोशल मीडिया में राहुल गांधी के महिलाओं, बुजुर्गों, बच्चों से मिलते फोटो वायरल हो रहे हैं। कांग्रेस ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की लगातार चुप्पी पर फिर हमला बोला है। वैसे राहुल गांधी की मणिपुर यात्रा के बाद माना जा रहा है कि अब प्रधानमंत्री मोदी भी मणिपुर जा सकते हैं।

सोशल मीडिया में प्रधानमंत्री नरेेंद्र मोदी की मेट्रो में यात्रा और राहुल गांधी की मणिपुर में शांति यात्रा के बीच कई लोग तुलना करते भी दिख रहे हैं। मणिपुर के मुख्यमंत्री पर इस्तीफे का दबाव बढ़ गया है। आज वे जब इस्तीफा ले कर जा रहे थे, तो उनके समर्थकों ने घेर लिया। और इस्तीफा देने से मना किया। इस्तीफा का पत्र भी फाड़ दिया।

कांवर यात्रा के लिए भेजे 34 अधिकारी, भागलपुर, बांका में लगी ड्यूटी

By Editor


Notice: ob_end_flush(): Failed to send buffer of zlib output compression (0) in /home/naukarshahi/public_html/wp-includes/functions.php on line 5420