RPF जवान ने ट्रेन में अपने सीनियर सहित 4 की गोली मार की हत्या

RPF जवान ने ट्रेन में अपने सीनियर सहित 4 की गोली मार की हत्या

RPF जवान ने ट्रेन में अपने सीनियर सहित 4 की गोली मार की हत्या। मृतकों के नाम टीकाराम मीणा, अब्दुल कादिर, असगर खान व एक अन्य। वीडियो वायरल।

जयपुर-मुंबई सुपर फास्ट ट्रेन में सोमवार की सुबह एक RPF जवान ने 12 राउंड फायरिंग करके अपने सीनियर एएसआई टीकाराम मीणा और तीन अन्य यात्रियों की हत्या कर दी। यात्रियों के नाम हैं अब्दुल कादिर तथा असगर खान। एक अन्य की पहचान नहीं हो पाई है। घटना का एक वीडियो भी वायरल है, जिसमें वह मोदी, योगी और ठाकरे का नाम ले रहा है। हमलावर का नाम चेतन सिंह है। उसे गिरफ्तार कर लिया गया है। वीडियो में वह मोदी, योगी और ठाकरे का नाम ले रहा है। देखिए वीडियो में वह क्या कह रहा है-

मिली जानकारी के अनुसार घटना जयपुर-मुंबई सुपर फास्ट ट्रेन में सुबह पांच बजे हुई। तब ट्रेन वैतरना स्टेशन पहुंचनेवाली थी। आरपीएफ जवान ने अपनी रािफल से 12 राउंड फायरिंग की। जबकि मीना के पिस्टल से 10 रूउंड फायरिंग की गई। वह उत्तर प्रदेश के हाथरस का रहने वाला था और छुट्टी से लौटकर उसने 18 जुलाई को ड्यूटी ज्वाइन की थी। वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों ने मीडिया को बताया कि वह मानसिक रूप से बीमार था। वहीं सोशल मीडिया में लोग कह रहे हैं कि देश में नफरत का माहौल बनाया गया, यह उसी का परिणाम सामने आ रहा है।

घटना के समय का एक वीडियो भी वायरल है। फैक्ट चेकर मोहम्मद जुबैर ने लिखा है कि हमलावर चेतन सिंह कह रहा है कि “ पाकिस्तान से ऑपरेट हुए हैं तुम्हारी मीडिया। ये देश की मीडिया ये खबरें दिखा रही हैं, पता चल रहा है उनको। सब पता चल रहा है, इनके आका हैं वहां। अगर हिंदुस्तान में रहना है, तो मैं कहता हूं मोदी और योगी, ये दो हैं और आपके ठाकरे।

पत्रकार श्याम मीरा सिंह ने लिखा है ये RPF का मोदी भक्त कांस्टेबल- चेतन सिंह है. इसकी तैनाती- जयपुर-मुंबई एक्सप्रेस ट्रेन में सुरक्षा देने वाले सिपाहियों में थी. भाजपा और आरएसएस के दुष्प्रचार ने इसकी रगों में नफ़रत भर इसे चलता-फिरता जौम्बी बना दिया. इसके साथ इसके सीनियर- ASI टीकाराम मीना थे. ट्रेन में हुई राजनितिक बहस के बीच ही इसने ASI टीकाराम मीना को गोली मारकर मौत के घाट उतार दिया. इसके बाद इसने मधुबनी के अब्दुल कादिर की भी गोली मारकर हत्या कर दी. फिर ये आगे चला जहाँ इसे रेल बोगी की पैंट्ररी में एक आदमी मिला, उसे भी इसने मौत के घाट उतार दिया. फिर आगे S-6 कोच में गया. वहां इसे असगर अली नाम का जयपुर का एक चूड़ी बेचने वाला मिला उसे भी इसने गोली मारकर मौत के घाट उतार दिया।

कांवड़ियों को दंगा करने से रोका, तो IPS चौधरी का योगी ने किया तबादला