स्कालरशिप बंद, नीतीश ने दलितों का भविष्य बर्बाद किया : तेजस्वी

स्कालरशिप बंद, नीतीश ने दलितों का भविष्य बर्बाद किया : तेजस्वी

बिहार में 5 वर्षों से SC-ST बच्चों का स्कारलरशिप बंद है। तेजस्वी यादव ने मुख्यमंत्री पर करारा हमला किया। कहा, नीतीश ने दलितों का भविष्य बर्बाद किया।

महामारी, बेरोजगारी, छंटनी, वेतन कटौती के दौर में बिहार के एससी-एसटी बच्चों का स्कालरशिप बंद है। वह भी 5 वर्षों से। इस कारण दलित बच्चों को मैट्रिक के बाद पढ़ाई में क्या परेशानी आई होगी, इसकी कल्पना करना भी मुश्किल है। कितनों की पढ़ाई छूट गई होगी। विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने इन बच्चों का स्कारलशिप बंद होने पर सीधे मुख्यमंत्री को कटघरे में खड़ा किया।

तेजस्वी ने कहा- नीतीश सरकार ने विगत 5 वर्षों से SC/ST वर्गों की स्कॉलरशिप बंद कर लाखों गरीब छात्रों का भविष्य बर्बाद कर दिया है। मुख्यमंत्री जी से पूछिएगा तो वह पूर्णत: अनभिज्ञता प्रकट करेंगे। बाक़ी प्रदेशों में केंद्र प्रायोजित यह स्कॉलरशिप कैसे मिल रही है? है जवाब??

इंडियन एक्सप्रेस की खबर के मुताबिक मैट्रिक के बाद एससी-एसटी बच्चों को केंद्र की योजना के तहत मिलनेवाली स्कालरशिप बंद है। सरकारी अधिकारियों का कहना है कि नेशनल स्कालरशिप पोर्टल में तकनीकी कारण से खराबी है। इसीलिए स्कालरशिप के आवेदन स्वीकृत नहीं हुए। जब यह पूछा गया कि अन्य राज्यों में हर वर्ष किस तरह मिल रहा है, तो कोई जवाब नहीं था।

हद तो यह है कि मुख्यमंत्री खुद इंजीनियर हैं। इसके बावजूद तकनीकी खराबी से बच्चों को स्कालरशिप नहीं मिल रहा? पोर्टल की खराबी कोई चांद पर जाने जैसा कठिन तो नहीं है। फिर इसे ठीक क्यों नहीं कराया गया। स्पष्ट है यह दलित बच्चों के प्रति आपराधिक लापरवाही है।

‘मुल्ले काटे जायेंगे..’ जैसे हिंसक नारे पर किसने क्या कहा

बिहार सरकार ने सरकारी और प्राइवेट संस्तानों की फीस में अंतर बताकर एक कैप लगा दिया। इससे मैनेजमेंट व अन्य प्रोफेशनल्स कोर्स की पढ़ाई करनेवाले छात्र परेशान हुए। इस कारण कई छात्रों की पढ़ाई छूट गई। विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव के बयान के बाद अब तक राज्य सरकार के किसी मंत्री ने कोई जवाब नहीं दिया है।

जातीय जनगणना : नीतीश बोले पीएम ने अबतक नहीं दिया जवाब

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*