STET : अभ्यर्थियों पर लाठीचार्ज, विपक्ष ने कहा, याद रखा जाएगा

STET : अभ्यर्थियों पर लाठीचार्ज, विपक्ष ने कहा, याद रखा जाएगा

STET अभ्यर्थियों पर आज पटना में लाठीचार्ज हुआ। विपक्ष ने कहा, एक-एक लाठी का हिसाब होगा। शिक्षा मंत्री ने कहा, अभ्यर्थी किसी के बहकावे में न आएं।

आज पटना में STET अभ्यर्थियों पर पुलिस ने लाठीचार्ज किया। अभ्यर्थी STET परीक्षा में हुए फर्जीवाड़े के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे थे। लाठीचार्ज की सभी विपक्षी पार्टियों ने निंदा की और कहा कि सरकार निरंकुश हो गई है। राजद और युवा कांग्रेस ने कहा कि एक-एक लाठी का हिसाब होगा। माले से जुड़े छात्र संगठन आइसा ने कहा-लाठीचार्ज को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

राजद विधायक ऋषि कुमार ने कहा-पटना में STET अभ्यर्थियों पर नीतीश सरकार के द्वारा बेरहमी से लाठी चलवाया जा रहा है । क्या रोजगार मांगना गुनाह है ? मुख्यमंत्री जी! याद रखिए …अब आपका पाप का घड़ा भर चुका है। विदाई तय है। एक एक लाठी का हिसाब होगा। लिख कर रख लीजिए।

लाठीचार्ज से आक्रोशित बिहार युवा कांग्रेस के अध्यक्ष गुंजन पटेल ने कहा-पटना में #STET2019 अभ्यर्थियों पर हुई लाठीचार्ज की घटना अत्यंत ही दुर्भाग्यपूर्ण एवं शर्मनाक है। युवा विरोधी इस निरंकुश भाजपा-जदयू सरकार की गुंडागर्दी बर्दाश्त नहीं की जाएगी। हिरासत में लिए गए अभ्यर्थियों को तुरंत रिहा करो।

STET2019 उत्तीर्ण अभ्यर्थी संघ की मांग

#STET19 की मुख्य माँग:- पात्रता नहीं नियुक्ति चाहिए।Competition पास किये हैं नियुक्ति के लिए,पात्रता के लिये नहीं। सबको मौका नहीं सबको नियुक्ति चाहिए। मौका तो एक बार 2.14 lakh को मिल ही गया, फिर बार बार मौका शब्द क्या

RCP-Kushwaha 90 दिन में एक साथ क्यों नहीं दिखे

@AISA_Bihar ने ट्विट किया- पटना सचिवालय गेट पर धरना प्रदर्शन कर रहे #STET2019 अभ्यर्थियों के उपर @NitishKumar और @BJP4Bihar सरकार की पुलिस द्वारा बर्बर लाठी चार्ज की घटना बेहद निंदनीय व अलोकतांत्रिक कदम है ! बरोजगार युवाओं के शरीर पर पड़ी एक-एक लाठी बिहार सरकार के ताबूत में आखरी कील का काम करेगी! आइसा ने भी दर्जनों हिरासत में लिए गए अभ्यर्थियों को रिहा करने की मांग की।

इस बीच शिक्षामंत्री विजय कुमार चौधरी ने कहा कि अभ्यर्थियों को कुछ लोग गुमराह कर रहे हैं। उन्होंने कहा- जितने लोगों ने STET की परीक्षा पास की है, वो सभी आवेदन देने के हकदार हैं। अभ्यर्थी किसी बहकावे में ना आएं।

सिनेमा हॉल खुल रहे हैं, मुशायरों पर भी रोक हटे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*