तस्वीर बता रही कांग्रेस भी बदल रही, तलाश रही नई जमीन

तस्वीर बता रही कांग्रेस भी बदल रही, तलाश रही नई जमीन

अब कांग्रेस पुरानीवाली कांग्रेस नहीं रही। तेजी से बदल रही है। तस्वीर प्रमाण है। बिहार में उपचुनाव में गांव-गांव जा रहे नेता। पगडंडियों के सहारे पहुंच रहे।

तारापुर के गांव में पगडंडियों के सहारे लोगों तक पहुंचते गुंजन पटेल

कांग्रेस बदल रही है। तेजी से बदल रही है। यूपी में प्रियंका गांधी ने सिर्फ एक महीना के भीतर लोगों की धारणा बदल दी। जो कल तक कहते थे कि 2022 विधानसभा चुनाव में कांग्रेस को भाग ही नहीं लेना चाहिए। उसे सपा को समर्थन देना चाहिए, ताकि भाजपा को हराया जा सके, वही कांग्रेस आज लोगों की जुबान पर है। सीट कितनी मिलती है, यह अलग बात है, लेकिन कांग्रेस खड़ी हो रही है।

बिहार में दो सीटों पर उपचुनाव हो रहा है। कांग्रेस के नेता जिस तरह मेहनत कर रहे हैं, वैसी मेहनत लोगों ने हाल के वर्षों में नहीं देखी है। राजनीतिक विश्लेषक मान रहे हैं कि भले ही तत्काल कांग्रेस को इसका लाभ नहीं मिले, लेकिन 2024 लोकसभा चुनाव तक वह जमीन पर काम करती रही, तो इसका उसे लाभ मिलेगा।

युवा कांग्रेस के प्रदेश गुंजन पटेल @GunjanINC ने तारापुर विधानसभा क्षेत्र के ग्राम पंचायत खैरा में प्रभारी @iy_rajesh जी व टीम के साथ पगडंडियों और खेतों से होकर लोगों तक पहुंचे। विभिन्न जगहों पर जनता एवं पंचायत के वर्तमान व पूर्व जनप्रतिनिधियों के बीच कांग्रेस के प्रत्याशी @RajeshKM30 जी के समर्थन में मतदान की अपील की! इससे पहले गुंजन पटेल रनगाँव,रोंगदा व तेघरा गाँव में विभिन्न जगहों पर घर- घर जाकर कांग्रेस के पक्ष में वोट की अपील की!

कांग्रेस के कई नेता गांव-गांव पहुंच रहे हैं। लोकसभा की पूर्व अध्यक्ष मीरा कुमार आज तारापुर और कुशेश्वरस्थान में सभाओं को संबोधित करेंगी। कांग्रेस प्रभारी भक्त चरण दास लगातार खुद भी गांवों तक जा रहे हैं। कार्यकर्ताओं से मिल रहे हैं। बिहार प्रदेश के सारे पुराने नेता इस उपचुनाव में सक्रिय दिख रहे हैं। जमीन से जुड़ने की कोशिश कर रहे हैं।

नीतीश के तकियाकलाम का रस ले-लेकर तेजस्वी ने किया बखान

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*