‘तेजस्वी ने बाढ़ पीड़ित को मदद दी, कोई अपराध नहीं किया’

‘तेजस्वी ने बाढ़ पीड़ित को मदद दी, कोई अपराध नहीं किया’

लाखों लोग बाढ़, महंगाई और सरकार की आर्थिक नीतियों से बर्बाद हो गए हैं। ऐसी ही पीड़ित महिलाओं की तेजस्वी ने मदद की, अपराध नहीं किया। जदयू को पीड़ा क्यों?

राजद प्रवक्ता चितरंजन गगन ने तेजस्वी यादव द्वारा बाढ़-महंगाई और सरकार की गरीब विरोधी नीतियों के कारण रोजगार खो चुकी महिलाओं की मदद की, तो जदयू नेताओं को पीड़ा हो रही है। उन्होंने कहा कि गरीब और पीड़ित महिलाओं की मदद करना कोई अपराध है क्या?

गगन ने पूछा कि राज्य सरकार राशन देने के अलावा क्या कर रही है। राशन भी सभी जरूरतमंदों को नहीं मिल पा रहा है। लोग महंगाई, बाढ़ और बेरोजगारी से जूझ रहे हैं। उनका जीवन कठिन दौर से गुजर रहा है। गगन ने पूछा कि प्रदेश के गरीबों को राहत देने के लिए सरकार ने रोजगार का कोई विशेष अभियान क्यों नहीं चलाया।

राजद प्रवक्ता ने जदयू नेताओं द्वारा तेजस्वी यादव की मदद का मजाक उड़ाने की तीखी आलोचना करते हुए कहा कि तेजस्वी ने जो मदद दी, वह प्रधानमंत्री मोदी के फोटोवाले खाली झोले से कई गुना अच्छा है।

चितरंजन गगन ने ट्वीट किया-कमीशनखोर को कमीशन नहीं मिल रहा है तो दर्द होना स्वाभाविक है। ऐसे भी मुजफ्फरपुर बालिका गृह कांड को संरक्षण देने वालों को मां-बहनों को सम्मान देना कैसे बर्दाश्त होगा ? जैसा संस्कार वैसा विचार! क्या घटियापन है, खुद बेशरम होकर दूसरों को शर्म का पाठ समझा रहा है!

राजद प्रवक्ता ने नौकरशाही डॉट कॉम को यह भी बताया कि जदयू अपने भीतर की कलह और गुटबाजी से परेशान है और बिहारवासियों का ध्यान बंटाने के लिए लालू परिवार पर व्यक्तिगत हमले कर रहा है, लेकिन प्रदेश की जनता अब इनके भुलावे में नहीं आनेवाली। लाखों लोग बाढ़ से और पूरा प्रदेश महंगाई से परेशान है। लोगों को काम नहीं मिल रहा है। इसलिए जनता में नीतीश सरकार से गुस्सा लगातार बढ़ रहा है।

JDU में गृहयुद्ध, RCP के तीन समर्थकों के पर कतरे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*