दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की रिहाई की मांग पर दिल्ली में IndiaAlliance की रैली के बाद अब झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की रिहाई के लिए 21 अप्रैल को रांची में उलगुलान रैली होगी। रैली को, तेजस्वी यादव सहित देशभर के नेता संबोधित करेंगे।

जेल में बंद हेमंत सोरेन की पत्नी कल्पना सोरेन इस रैली की तैयारी में दिन-रात जुटी हैं। उन्होंने राहुल गांधी, मल्लिकार्जुन खड़गे, तेजस्वी यादव, ममता बनर्जी सहित सभी वाम दलों के नेताओं को आमंत्रित किया है। बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि वे कल्पना सोरेन के संघर्ष को हर तरह से मदद करने को तैयार हैं। माले के महासचिव दीपंकर भट्टाचार्य ने कहा कि कल्पना सोरेन का संघर्ष देश भर में तानाशाही के खिलाफ संघर्ष को प्रेरित कर रहा है। उन्होंने कहा कि आमंत्रण मिला है और वे 21 अप्रैल को रांची उलगुलान रैली में रहेंगे। उम्मीद है कि IndiaAlliance के अन्य नेता भी जल्द ही अपनी उपस्थिति के बारे में स्पष्ट कर देंगे।

IndiaAlliance की दिल्ली रैली के बाद केजरीवाल के प्रति सहानुभूति पहले से ज्यादा बढ़ गई और माना जा रहा है कि केजरीवाल की गिरफ्तारी से भाजपा को नुकसान होने जा रहा है। अब झारखंड में भी करीब वैसी ही स्थिति बन गई है। कल्पना सोरेन ने हेमंत सोरेन की गिरफ्तारी को आदिवासी अस्मिता और तानाशाही के खिलाफ संघर्ष से जोड़ दिया है। झारखंड में भी भाजपा परेशान दिख रही है। हेमंत सोरेन के पक्ष में स्पष्ट सहानुभूति देखी जा रही है। झारखंड मुक्ति मोर्चा इस रैली की तैयारी में हर जिले में बैठक और सभा कर रहा है। कई जिलों में खुद कल्पना सोरेन भी पहुंची। इसी के साथ झामुमो ने भाजपा के खिलाफ अपने तेवर तीखे कर दिए हैं।

पटना में BJP समर्थकों ने प्रत्याशी का किया विरोध, अश्विनी चौबे का दर्द छलका

इस बीच राज्य में हेमंत सोरेन की पत्नी कल्पना सोरेन एक नए नेता के रूप में उबर कर सामने आ रही हैं। कांग्रेस अध्यक्ष राजेश ठाकुर ने कहा कि हालांकि कल्पना सोरेन मजबूरी में राजनीति में आईं, लेकिन वे अब इंडिया गठबंधन की मजबूती का कारण बन गई हैं।

किशनगंज में चिंता, मोदी का NDA जीता तो देश में आगे चुनाव होगा या नहीं

By Editor