उपचुनाव : कांग्रेस में जोश, चाणक्य चुप, बिहार में राजद को झटका

उपचुनाव : कांग्रेस में जोश, चाणक्य चुप, बिहार में राजद को झटका

कई प्रदेशों में उपचुनाव के रिजल्ट आ गए हैं। कांग्रेस में जोश दिख रहा। भाजपा के चाणक्य चुप हैं। बिहार में सभाओं की भीड़ को वोट में बदलने में राजद विफल।

उपचुनावों में कांग्रेस के शानदार प्रदर्शन से पार्टी में जोश दिख रहा है। हिमाचल प्रदेश के मंडी लोकसभा क्षेत्र और तीन विधानसभा क्षेत्रों में भाजपा को कहीं भी जीत नसीब नहीं हुई। चारों सीटों पर कांग्रेस को जीत मिली। लोकसभा की तीन सीटों पर हुए चुनाव में दो पर भाजपा को हार मिली। विधानसभा क्षेत्रों में जहां भाजपा की सीधी टक्कर कांग्रेस से थी, उनमें अधिकतर जगह उसे हार मिली। कांग्रेस ने कर्नाटक, राजस्थान में भी बेहतर प्रदर्शन किया है। राजस्थान में दो विस क्षेत्रों में उपचुनाव हुए, दोनों में कांग्रेस की जीत हुई। एक सीट कांग्रेस ने भाजपा से छीन ली है। एक पर पहले भी कांग्रेस का कब्जा था। बंगाल में सभी चार सीटों पर टीएमसी की जीत और भाजपा की हार हुई है। भाजपा के लिए राहत की खबर असम से है, जहां उसके प्रत्याशी जीते हैं।

उपचुनाव परिणाम से कांग्रेस में जोश दिख रहा है। सारे नेता ट्वीट कर रहे हैं, वहीं भाजपा खेमे में मायूसी छाई है। गृहमंत्री अमित शाह, भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने उपचुनाव परिणामों पर एक भी ट्वीट नहीं किया है।

इधर बिहार में दो विधानसभा क्षेत्रों में उपचुनाव हुए। कुशेश्वरस्थान में जदयू को जीत मिल चुकी है। खास बात यह कि यहां जदयू ने पिछली बार की तुलना में जीत का अंतर भी बढ़ाया है। पिछली बार यहां जदयू ने सात हजार से कुछ ज्यादा मतों से चुनाव जीता था, इस बार उसे 12 हजार से अधिक वोटों से जीत मिली।

तारापुर में पहले राजद प्रत्याशी आगे थे, पर गिनती के अंतिम चरणों में वे पिछड़ गए। राजद की सभाओं में खूब भीड़ जुट रही थी, लेकिन वह इसे वोट में तब्दील करने में विफल रहा। मुख्यमंत्री 15 साल पहले के लालू राज की बार-बार याद दिलाते रहे। राजद को सोचना पड़ेगा कि वह ए टू जेड की पार्टी कैसे बने।

बिहार में राजद-कांग्रेस का गठबंधन भी टूट गया। कांग्रेस को कुशेश्वरस्थान में साढ़े पांच हजार से ज्यादा वोट मिले।

शर्मनाक! विराट कोहली की दस महीने की बेटी को रेप की धमकी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*