5 को घमासान की घोषणा, तेजस्वी ने की विधायकों के साथ बैठक

5 को घमासान की घोषणा, तेजस्वी ने की विधायकों के साथ बैठक

दो दिन बाद रविवार को पटना में महागठबंधन नीतीश सरकार का ‘असली’ रिपोर्ट कार्ड जारी करेगा। आज तेजस्वी यादव ने दर्जनों विधायकों के साथ की बैठक।

पांच जून को पटना में महागठबंधन नीतीश सरकार के खिलाफ बड़े अभियान की घोषणा कर सकता है। उस दिन बापू सभागार में बड़ी संख्या में राज्य भर से कार्यकर्ता जुटेंगे। आज तेजस्वी यादव ने दर्जनों विधायकों के साथ बैठक की। महागठबंधन उस दिन नीतीश सरकार का ‘असली’ रिपोर्ट कार्ड जारी करेगा।

नीतीश सरकार के रिपोर्ट कार्ड को अंतिम रूप दिया जा रहा है। जानकारी मिली है कि इसमें रोजगार देने के मामले में सरकार की विफलता और चुनाव में रोजगार के वादे से वादाखिलाफी के खिलाफ जोरदार हमला होगा। विपक्षी दल रोजगार के सवाल पर किसी अभियान की भी घोषणा कर सकते हैं।

कार्यंक्रम की सफलता के लिए विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने आज पटना में दर्जनों विधायकों की बैठक बुलाई। इसमें प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह, प्रदेश प्रमुख महासचिव आलोक मेहता के अलावा विधायक भाई वीरेंद्र, रामानुज यादव,बागी कुमार वर्मा, एमएलसी सुनील सिंह, सारण के सुनील राय और जितेंद्र राय सहित अनेक विधायक उपस्थित थे।

पांच जून को राजद नीतीश सरकार, जदयू और भाजपा पर भी जातीय जनगणना के सवाल पर राजनीतिक हमला करेगा। वहां से गांव-गांव में यह मैसेज ले जाने की तैयारी है कि किस प्रकार भाजपा नहीं चाहती थी कि राज्य में जातीय जनगणना हो। किस प्रकार विपक्ष ने मुख्यमंत्री पर दबाव बनाया। आज राजद ने कई ट्वीट करके बिहार में जातीय जनगणना को तेजस्वी यादव और पार्टी की उपलब्धि बताया। सोशल मीडिया पर राजद समर्थकों ने कुछ टीवी चैनलों पर भी सवाल उठाया, जो कह रहे हैं कि बिहार जैसे गरीब राज्य में जातीय जनगणना पर इतना खर्च क्यों किया जा रहा है। सवाल है कि उन्हें अगर बिहार की चिंता है, तो वे केंद्र से कहें कि जनगणना का खर्च वह वहन करे।

PM, CM कानपुर में, फिर भी हिंसा भड़की, अखिलेश की बड़ी मांग

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*