झारखंड में अब 125 यूनिट बिजली फ्री, बिहार में क्या होगा?

झारखंड में अब 125 यूनिट बिजली फ्री, बिहार में क्या होगा?

झारखंड में अब 125 यूनिट बिजली फ्री, बिहार में क्या होगा? कर्नाटक, दिल्ली में भी फ्री बिजली। बिहार में डबल इंजन सरकार क्या गरीबों को राहत देगी?

झारखंड में चंपई सरकार कई बड़े निर्णय ले रही है। मुख्यमंत्री चंपई सोरेन ने पिछले दिनों #JSSC की CGL परीक्षा के प्रश्न पत्र लीक होने के आरोपों की जांच कर के, इस मामले में संलिप्त अभियुक्तों की जल्द शिनाख्त कर गिरफ्तारी का आदेश दिया गया है। इसके लिए सदर डीएसपी के नेतृत्व में एक एसआईटी गठित की गई है। कहा कि ऐसे मामलों में किसी आरोपी को बख्शा नहीं जायेगा।

अब मुख्यमंत्री चंपई सोरेन ने एक और बड़ा आदेश दिया है। उन्होंने ऊर्जा विभाग को आदेश दिया है कि गरीबों को 125 यूनिट बिजली दिए जाने का प्रस्ताव जल्द बना कर दें। मालूम हो कि झारखंड के गरीबों को हेमंत सरकार पहले से 100 यूनिट बिजली मुफ्त दे रही है। अब उसे आगे बढ़ाते हुए चंपई सोरेन ने 125 यूनिट बिजली फ्री देने का रास्ता साफ कर दिया है।

इसी के साथ बिहार के लोग पूछ रहे हैं कि क्या बिहार में गरीब नहीं रहते? बिहार में तो अब डबल इंजन की सरकार है। वह गरीबों को मुफ्त बिजली देगी या राममंदिर से ही काम चलाने को कहेगी। कर्नाटक में पिछले साल विधानसभा चुनाव के बाद कांग्रेस सरकार ने गरीबों ही नहीं, हर वर्ग के लिए सौ यूनिच बिजली फ्री कर दी है। इससे गरीबों तथा मध्य वर्ग को बड़ी राहत मिली है। सवाल है कि जब झारखंड, कर्नाटक, दिल्ली में बिजली फ्री हो सकती है, तो बिहार में क्यों नहीं हो सकती।

झारखंड के मुख्यमंत्री कार्यालय से मिली जानकारी के अनुसार मुख्यमंत्री ने बिजली सब्सिडी में बढ़ोतरी को लेकर ऊर्जा विभाग को प्रस्ताव तैयार करने का निर्देश दिया है। बिजली उपभोक्ताओं को अब 125 यूनिट मुफ्त बिजली उपलब्ध कराने की दिशा में सरकार ने कदम बढ़ा दिया है। चंपई सोरेन के इस आदेश के बाद माना जा रहा है कि फरवरी महीने में ही सरकार 125 यूनिट बिजली फ्री देने का कार्य शुरू कर देगी। मुख्यमंत्री के इन फैसलों से भाजपा परेशान है। लोकसभा चुनाव भी नजदीक है।

बिहार : पेंच में फंस गया स्पीकर के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव