मंत्री इसराइल मंसूरी के पिता के जनाजे में हजारों ने की शिरकत

मंत्री इसराइल मंसूरी के पिता के जनाजे में हजारों ने की शिरकत

सूचना एवं प्रद्योगिकी मंत्री इसराइल मंसूरी के पिता मोहम्मद उस्मान के जनाजे में हज़ारों लोगों ने शिरकत की। तमाम प्रबुद्ध लोग और सामाजिक कार्यकर्ता शामिल हुए।

सूचना एवं प्रद्योगिकी मंत्री इसराइल मंसूरी के पिता मोहम्मद उस्मान के जनाजे में हज़ारों लोगों ने शिरकत की। जनाजे में आसपास के तमाम प्रबुद्ध लोगों के साथ ही सामाजिक कार्यकर्ता और हर वर्ग के आम लोग भी शामिल हुए। राजधानी पटना से भी राजद के कई नेता, सामाजिक कार्यकर्ता वहां पहुंचे थे।

मिली जानकारी के अनुसार उनके जनाजे की नमाज़ मुजफ्फरपुर के मथुरापुर में अदा की गई। तदफीन मथुरापुर स्थित कब्रिस्तान में हुई। इस अवसर पर मंत्री के सभी भाई, मोहम्मद इसलाम, मोहम्मद आलम के अलावा सामाजिक कार्यकर्ता, विधायक, राजद के विधान पार्षद कारी शोहेब भी मौजूद थे।

मालूम हो कि इस वर्ष जब महागठबंधन सरकार बनने के बाद नीतीश मंत्रिमंडल का विस्तार हुआ, तो 31 नए मंत्रियों ने शपथ ली थी। इनमें सबसे खास नाम था इसराइल मंसूरी का। वे मुसलमानों की सबसे कमजोर, सामाजिक रूप से से सबसे निचले पायदान की जाति धुनिया से आते हैं। इस जाति के पिछड़ेपन को समझने के लिए इतना ही जानना काफी है कि 2020 में इसराइल मंसूरी धुनिया जाति से विधायक बनने वाले पहले नेता थे। आजादी के 73 साल बाद इस जाति का कोई व्यक्ति विधायक बन सका। यह तब संभव हुआ, जब तेजस्वी यादव ने उन्हें विधानसभा चुनाव में पार्टी का टिकट दिया। चुनाव में उन्होंने जीत हासिल की और विधानसभा में पहुंचनेवाले धुनिया जाति के पहले नेता बने। अब तेजस्वी यादव ने उन्हें मंत्री भी बना दिया है। आप कह सकते हैं, आजादी के 75 साल बाद मुस्लिम समुदाय के सबसे निचले पायदान की धुनिया आबादी के इतिहास में एक नया अध्याय जुड़ा।

UP : आरक्षण बिना निकाय चुनाव, JDU ने BJP की बोलती बंद की

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*