तेलंगाना : ओवैसी बने प्रोटेम स्पीकर, BJP विधायकों ने नहीं ली शपथ

तेलंगाना : ओवैसी बने प्रोटेम स्पीकर, BJP विधायकों ने नहीं ली शपथ

तेलंगाना : ओवैसी बने प्रोटेम स्पीकर, BJP विधायकों ने नहीं ली शपथ। भाजपा का आरोप AIMIM और कांग्रेस में सांठगांठ। कांग्रेस ने राज्यपाल का पत्र जारी किया…।

तेलंगाना में भाजपा विधायकों ने शपथ लेने से इनकार कर दिया। वे AIMIM के विधायक अकबरुद्दीन ओवैसी को प्रोटेम स्पीकर बनाए जाने का विरोध कर रहे हैं। भाजपा सदस्यों ने विधायकों के शपथ ग्रहण समारोह का बहिष्कार कर दिया। भाजपा विधायकों ने कांग्रेस पर आरोप लगाया कि उसका एमआईएम से सांठगांठ है। कांग्रेस ने भी राज्यपाल का पत्र जारी किया, जिसमें राज्यपाल के आदेश से ओवैसी को प्रोटेम स्पीकर बनाए जाने की सूचना जारी की गई है। कांग्रेस ने कहा कि ओवैसी को प्रोटेम स्पीकर बनाने का निर्णय कांग्रेस सरकार का नहीं है, बल्कि राज्यपाल का है। कांग्रेस नेता यह भी कह रहे हैं कि राज्यपाल तो भाजपा के हैं, इसीलिए सांठगांठ भाजपा और एमआईएम में है।

इस तरह तेलंगाना में भाजपा ने एक नया मुद्दा खड़ा कर दिया है। शपथ लेने से इनकार करनेवाले सात भाजपा विधायक हैं, इनमें टी राजा भी शामिल हैं, जिन्होंने कई बार नफरती भाषण से सुर्खियां पाई हैं। भाजपा के इस कदम को लोकसभा चुनाव की तैयारी से भी जोड़ कर देखा जा रहा है। कहा जा रहा है कि भाजपा अभी से ध्रुवीकरण करना चाहती है, ताकि पिछली बार उसकी जीती चार सीटों पर फिर से जीत मिल सके।

इधर भाजपा के इस रुख की आलोचना भी हो रही है। कहा जा रहा है कि राजनीतिक विरोध अपनी जगह है, लेकिन उसे आधार बना कर शपथ नहीं लेना देश में गलत परिपाटी स्थापित करना है। भाजपा विधायकों को शपथ लेनी चाहिए। वरिष्ठ पत्रकार राजदीप सरदेसाई ने भी भाजपा विधायकों के इस निर्णय को गलत कदम बताया है। खबर लिखे जाने तक भाजपा विधायकों ने शपथ नहीं ली है। अब देखना है कि कांग्रेस सरकार इसका किस प्रकार हल निकालती है।

इस बीच कांग्रेस सरकार ने कल ही अपनी छह गारंटी लागू कर दी। इसके साथ ही राज्यभर में महिलाओं को मुफ्त बस सेवा शुरू हो गई। सोशल मीडिया में मुख्यमंत्री रेवंथ रेड्डी ने महिलाओं की फ्री बस यात्रा करते फोटो शेयर की है।

कांग्रेस ने दलित नेता को डिप्टी CM बना चली बड़ी चाल, BJP परेशान