पद के अहंकार में डूबे थप्पड़मारू डीएम का ये हुआ अंजाम

पद के अहंकार में डूबे थप्पड़मारू डीएम का ये हुआ अंजाम

पद के अहंकार में डूबे थप्पड़मारू डीएम का ये हुआ अंजाम

छत्तीसगढ़ के सूरजपुर के डीएम रणबीर शर्मा पर पूरा देश बरस पड़ा है. सीएम से ले कर आईएएस एसोसिएशन ने नालत मलामत की और अब पद से हटा दिये गये हैं.

कोरोना गाइडलाइन का उल्लंघन करने के आरोप में डीएम ( DM Ranveer Sharma) ने एक बच्चे को थप्पड़ मारा था. लेकिन मामला तब और संगीन तब हो गया जब इस दृश्य का विडियो बनाने वाले दूसरे लड़के का मोबाइल न सिर्फ उन्होंने पटक के तोड़ दिया बल्कि उसे भी थप्पड़ा जड़ दिया.

इस वाक्ये की आईएएस एसोसिएशन ने जम कर निंदा की और इसे हर हाल में अस्वीकार कृत्य बताया. उधर मुख्यमंत्री भुपेश भगेल ने कहा कि इस घटना से छुब्ध हूं और नवयुवक व उनके परिजन से खेद व्यक्त करता हूं. कलेक्टर रणबीर शर्मा को हटाने के निर्देश दिए हैं. उनके स्थान पर गौरव कुमार सिंह को कलेक्टर नियुक्त किया गया है. जबकि रणबीर शर्मा को मंत्रालय में संयुक्त सचिव के तौर पर स्थानांतरित किया गया है.

पद के अहंकार में डूबे थप्पड़मारू डीएम का ये हुआ अंजाम


सीएम भूपेश बघेल ने लिखा है कि सोशल मीडिया के माध्यम से सूरजपुर कलेक्टर रणबीर शर्मा द्वारा एक नवयुवक से दुर्व्यवहार का मामला मेरे संज्ञान में आया है. यह बेहद दुखद और निंदनीय है. छत्तीसगढ़ में इस तरह का कोई कृत्य बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. कलेक्टर रणबीर शर्मा को तत्काल प्रभाव से हटाने के निर्देश दिए हैं.

फैसल की मॉबलिंचिंग करने वाले पुलिसकर्मियों पर हुआ मर्डर केस

उन्होंने अगले ट्वीट में लिखा कि किसी भी अधिकारी का शासकीय जीवन में इस तरह का आचरण स्वीकार्य नहीं है. इस घटना से क्षुब्ध हूं. मैं नवयुवक व उनके परिजनों से खेद व्यवक्त करता हूं.

हालांकि इस घटना के बाद रणवीर शर्मा ने कहा था कि उन्हें माफ कर दिया जाये क्योंकि उन्होंने आवेश में आकर चाटा मारा था.


दर असल सूरजपुर कलेक्टर रणवीर शर्मा का बच्चे को मारते हुए वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हो गया था. इसके बाद लोगों ने उनकी खूब आलोचना की.

विडियो में दिख रहा है कि कलेक्टर एक बच्चे का मोबाइल पटककर तोड़ते हैं और फिर उसको थप्पड़ भी जड़ते नजर आ रहे हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*