कांग्रेस मुख्यालय पहुंचे लालू, कहा राम-रहीम के बंदों को लड़ा रही BJP

कांग्रेस मुख्यालय पहुंचे लालू, कहा राम-रहीम के बंदों को लड़ा रही BJP। बिहार के प्रथम मुख्यमंत्री श्रीकृष्ण सिंह की जयंती में पहुंचे। जानिए क्या बोले-

राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद गुरुवार को कांग्रेस मुख्यालय सदाकत आश्रम पहुंचे। बिहार के प्रथम मुख्यमंत्री श्रीकृष्ण सिंह की 136 वीं जयंती के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में लालू प्रसाद पहुंचे, तो कांग्रेस नेताओं ने उनका जोरदार स्वागत किया। मंच पर लालू प्रसाद को सोने का मुकुट पहना कर स्वागत किया गया। इस अवसर कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अखिलेश प्रसाद सिंह, वरिष्ठ नेता तारिक अनवर सहित कांग्रेस के सभी प्रमुख नेता उपस्थित थे।

लालू प्रसाद ने जयंती समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि भाजपा वाले राम-रहीम के बंदों के बीच नफरत फैला कर देश को कमजोर कर रहे हैं। वे लोग बाबा साहब के बनाए संविधान को बदल देना चाहते हैं। लोकतंत्र को खत्म करने में लगे हैं। केंद्रीय एजेंसियों का इस्तेमाल करके विपक्ष की आवाज दबाना चहते हैं। महंगाई, बेरोजगारी से आम लोग परेशान हैं। उन्होंने कहा कि सभी दल मिल कर भाजपा की साजिशों को विफल करेंगे।

राजद अध्यक्ष ने कहा कि 2024 में भाजपा की तानाशाही का अंत हो जाएगा। इसी के लिए देश के 26 दलों ने मिल कर इंडिया गठबंधन बनाया है। इसकी शुरुआत पटना की ऐतिहासिक धरती से ही हुई है। उन्होंने कहा कि पूछा जाता है कि इंडिया गठबंधन का नेता कौन है। लालू प्रसाद ने कहा कि नेता का चुनाव हम सब मिल कर करेंगे। यह हमारे लिए कोई समस्या नहीं है। उन्होंने बिहार में इंडिया गठबंधन की एकता को विपक्षी एकता का उदाहरण बताया। कांग्रेस नेताओं ने भी कहा कि भाजपा की साजिशों का हम मिल कर मुकाबला करेंगे। कई नेताओं ने कहा कि इंडिया गठबंधन की रैली पटना में होगी और वह रैली नया इतिहास रचेगी।

कांग्रेस मुख्यालय में राजद अध्यक्ष के जाने को बड़ा राजनीतिक संदेश माना जा रहा है। वैसे भी राजनीतिक विश्लेषक मानते हैं कि 2024 लोकसभा चुनाव के लिए बिहार में सीटों का बंटवारा कोई मुद्दा नहीं है। यहां सीटों का बंटवारे पर कोई विवाद होने की संभावना नहीं है।

आजम खान से मिलने पहुंचे अजय राय, प्रशासन ने नहीं दी इजाजत

By Editor