दिल्ली दंगों से जुड़े केस में उमर खालिद और खालिद सैफी बरी

दिल्ली दंगों से जुड़े केस में उमर खालिद और खालिद सैफी बरी

जेएनयू के छात्र नेता उमर खालिद और खालिद सैफी को अदालत ने दिल्ली दंगों के मामले में बरी कर दिया है। कोर्ट ने पाया कि उनके खिलाफ कोई ठोस सबूत नहीं है।

जेएनयू के छात्र नेता उमर खालिद और खालिद सैफी को आज बड़ी राहत मिली। अदालत ने दिल्ली दंगों के मामले में दोनों को बरी कर दिया है। हालांकि यूएपीए के कारण अभी दोनों तुरत जेल से बाहर नहीं आ सकते। फिर भी दिल्ली दंगों के एक मामले में बरी किए जाने से लोकतंत्र-पसंद तबके में संतोष देखा जा रहा है और लोग उम्मीद जता रहे हैं कि दोनों जल्द ही जेल से बाहर आएंगे।

लाइव लॉ की खबर के मुताबिक दिल्ली की एक अदालत ने छात्र नेता उमर खालिद और खालिद सैफी को 2020 दिल्ली दंगों के एक मामले में बरी कर दिया है। उन पर भीड़ में शामिल होकर पत्थरबाजी करने का आरोप था। पुलिस कांस्टेबल की रिपोर्ट पर दोनों वह मामला दर्ज हुआ था, जिसमें उमर खालिद और खालिद सैफी भी शामिल थे। यह फैसला एडिशनल सेशन जजपुलस्तय प्रमाचला ने दिया।

दोनों नेताओं को बरी किए जाने के फैसले के बाद लोगों ने संतोष जाहिर किया है। पत्रकार श्याम मीरा सिंह ने कहा-दिल्ली कोर्ट ने उमर ख़ालिद और ख़ालिद सैफी दोनों को दिल्ली दंगों के एक मामले में बेगुनाह मानते हुए डिस्चार्ज कर दिया है। हालाँकि वे अभी भी UAPA केस के कारण कस्टडी में हैं। भगवान की इच्छा रही तो एक दिन उमर और ख़ालिद दोनों बेगुनाह निकलकर अपने घर वापस लौटेंगे। सबको न्याय मिले दुआ है। इसी के साथ कई अन्य ने लिखा-सच की जीत उमर ख़ालिद और ख़ालिद सैफी दोनों को दिल्ली दंगों के एक मामले में बेगुनाह मानते हुए डिस्चार्ज कर दिया है। सोशल मीडिया में लोग लिख रहे हैं कि सबसे बड़ी बात है कि दोनों नेताओं को कोर्ट ने बेगुनाह मानते हुए बरी किया है। लोग लिख रहे हैं कि आखिर सच की जीत हुई। दोनों जल्द जेल की कोठरी से बाहर आएंगे और अवाम को न्याय के दिलाने के लिए संघर्ष करेंगे।

पटना HC के जज ने ऐसा क्या कहा कि देशभर से लोग कर रहे सलाम

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*