गजब! राहुल बोले-नफरत के बाजार में मोहब्बत की दुकान खोल रहा हूं

गजब! राहुल बोले-नफरत के बाजार में मोहब्बत की दुकान खोल रहा हूं

राजस्थान के अलवर में भारत जोड़ो यात्रा की बीच कांग्रेस की विशाल रैली। राहुल गांधी का डरो मत नारा नीचे गांव तक पहुंच गया है। अब कहा- नफरत के बाजार में…।

राहुल गांधी ने भारत जोड़ो यात्रा के दौरान राजस्थान के अलवर में विशाल सभा को संबोधित करते हुए कहा कि वे नफरत के बाजार में मोहब्बत की दुकान खोल रहे हैं। यात्रा का अनुभव सुनाते हुए कहा कि रास्ते में भाजपा कार्यकर्ता मिलते हैं। वे छतों पर खड़े होकर सिर्फ देखते हैं। पहले मैं हाथ हिला कर स्वागत करता हूं, पर वे कुछ नहीं बोलते। मैं फिर हाथ हिलाता हूं। फिर उन्हें हवा में प्यार भरा चुंबन भेजता हूं। मैं भाजपा कार्यकर्ता से नफरत नहीं करता। गांधी ने, पटेल ने सबने नफरत के बाजार में मोहब्बत की दुकान खोली। मैं भी वही कर रहा हूं।

राहुल गांधी ने कहा कि भाजपा नेता बार-बार कहते हैं कि अंग्रेजी मत बोले। अंग्रेजी मत पढ़ो। उन्होंने लोगों से कहा कि जब भाजपा के नेता अंग्रेजी न पढ़ने को कहें, तो उनसे पूछिएगा कि आपके बच्चे किस् स्कूल में पढ़ते हैं, अंग्रेजी स्कूल में या हिंदी स्कूल में? राहुल ने नाम लेकर कहा कि अमित शाह का बेटा अंग्रेजी स्कूल में पढ़ता है, उनके सारे एमपी-एमएलए के बच्चे अंग्रेजी स्कूलों में पढ़ते हैं और आपको कहते हैं कि अंग्रेजी ठीक नहीं। भाजपा नहीं चाहती की गरीब का बेटा अंग्रेजी पढ़े। हिंदी भी पढ़िए, बांग्ला भी पढ़िए, हर भाषा पढ़िए, अंग्रेजी भी पढ़िए।

उन्होंने गहलोत सरकार से कहा कि राजस्थान सरकार प्रदेश के हर गरीब बच्चे को अंग्रेजी पढ़ाने की गारंटी करे। राहुल ने अपनी गहलोत सरकार को सुझाव दिया कि महीने में एक दिन सारे मंत्री गांव-गांव पैदल यात्रा करें। उन्होंने कहा कि यात्रा से किसी को थकान नहीं हो रही क्योंकि आप मोहब्बत की दुकान में आए हैं। लाखों लोगों ने हमारी मदद की। खबर लिखे जाने तक राहुल गांधी का बयान-नफरत के बाजार में मोहब्बत की दुकान खोल रहा हूं-वायरल हो गया है। राहुल गांधी ने अपने भाषण का अंत करते हुए सभी लोगों से मोहब्बत की दुकान खोलने की अपील की।

RS Bhatti नए DGP, शराब माफियाओं को अंदर करना बड़ी चुनौती

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*