गुजरात में केजरीवाल कांग्रेस से ज्यादा भाजपा को पहुंचा रहे नुकसान

गुजरात में केजरीवाल कांग्रेस से ज्यादा भाजपा को पहुंचा रहे नुकसान

गुजरात में विधानसभा चुनाव में गिनती के दिन रह गए हैं। आप के संयोजक अरविंद केजरीवाल कांग्रेस से ज्यादा भाजपा को पहुंचा रहे नुकसान। ये हैं तीन फैक्टर।

गुजरात विधानसभा चुनाव में अब गिनती के दिन रह गए हैं। वहां दो चरणों में एक और पांच दिसंबर को विधानसभा चुनाव है। अब तक गुजरात में भाजपा और कांग्रेस दो ही दलों में मुकाबला होता आया है। पहली बार वहां Arvind Kejriwal की पार्टी आप ने मुकाबले को तिकोना कर दिया है। इसके बाद इस बात पर बहुत बहस हो रही है कि केजरीवाल किसे ज्यादा नुकसान पहुंचाएंगे। कांग्रेस को या भाजपा को। ये हैं वे तीन फैक्टर, जो साबित करते हैं कि केजरीवाल कांग्रेस से ज्यादा भाजपा को नुकसान पहुंचा रहे हैं।

पहला, महीने भर पहले अरविंद केजरीवाल की जितनी चर्चा थी, उतनी अब नहीं रही। उन्होंने धमाकेदार प्रचार शुरू किया था कि स्कूल बनाएंगे, अस्पताल बनाएंगे। लेकिन धीरे-धीरे उन्होंने अपना जोर बदल दिया। वे हिंदुत्व की लाइन पर आ गए। यहां तक कह दिया कि नोट पर लक्ष्मी-गणेश का फोटो लगना चाहिए, इससे देश की गरीबी दूर होगी। हिंदुत्व का एजेंडा भाजपा का एजेंडा है और हिंदुत्व पर जोर देकर केजरीवाल भाजपा का ही ज्यादा नुकसान पहुंचाएंगे।

दूसरा फैक्टर है, केजरीवाल लाख कोशिश के बाद भी गुजरात के गांव में पैठ नहीं बना पाए। उनकी पैठ शहरों में ही दिख रही है। मालूम हो कि शहरों में भाजपा पहले से मजबूत रही है। शहरों में केजरीवाल भाजपा को ही नुकसान पहुंचाएंगे।

और तीसरी वजह है, कांग्रेस ने धीरे-धीरे खुद को संगठित किया। वह गांवों पर ज्यादा जोर दे रही है। इसीलिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी कहा कि कांग्रेस से सावधान रहिए। वह चुपके-चुपके काम कर रही है। कांग्रेस दलितों, अल्पसंख्यकों, आदिवासियों में पहले से मजबूत रही है। इस पर जोर देते हुए कांग्रेस सुशासन और कल्याणकारी योजनाएं लेकर आई है।

गंगा पथ पर रोजगार देने की तेजस्वी ने खोज निकाली बड़ी योजना

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*