IAS KK Pathak के खिलाफ मानवाधिकार आयोग पहुंचे शिक्षक

IAS KK Pathak के खिलाफ मानवाधिकार आयोग पहुंचे शिक्षक

IAS KK Pathak के खिलाफ मानवाधिकार आयोग पहुंचे शिक्षक। शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव के नए आदेश से शिक्षकों में हड़कंप। लटकी सस्पेंशन की तलवार।

शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव केके पाठक के खिलाफ शिक्षकों ने मोर्चा खोल दिया है। टीईटी शिक्षक संगठन केके पाठक के खिलाफ गुरुवार को मानवाधिकार आयोग पहुंचा। इससे पहले शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव ने सारे शिक्षकों की छुट्टी रद्द कर दी थी। उनके नए आदेश में कहा गया है कि 11 जुलाई को जो शिक्षक अनुपस्थित थे, उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। केके पाठक ने इस आशय का पत्र सभी जिला शिक्षा पदाधिकारियों को भेजा है। पत्र में कहा गया है कि उन शिक्षकों की पहचान की जाए, जो 11 जुलाई को स्कूल से अनुपस्थित रहकर आंदोलन में शामिल हुए।

टीईटी शिक्षक संगठन ने मानवाधिकार आयोग से शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव के आदेश को मानवाधिकार के खिलाफ बताते हुए उस आदेश को निरस्त करने की गुहार लगाई है।

इस बीच खबर है कि आज गुरुवार को भी शिक्षकों की छुट्टी रद्द है। विभाग के अपर मुख्य सचिव ने फिर सभी जिला शिक्षक अधिकारियों को पत्र लिखकर शिक्षकों की शत- प्रतिशत उपस्थिति सुनिश्चित करने का आदेश दिया है। आज भी जो शिक्षक स्कूल से गैरहाजिर रहते हुए आंदोलन में शामिल होंगे, उनकी पहचान की जाएगी तथा उनके खिलाफ कार्रवाई होगी। मालूम हो कि आज भाजपा ने शिक्षकों के मुद्दे पर पटना में प्रदर्शन की घोषणा की है। खबर है कि बुधवार को सभी जिलाधिकारी को आदेश दिया गया है कि अपने जिले के सभी उप समाहर्ता, जिला स्तरीय पदाधिकारी, अनुमंडल स्तरीय पदाधिकारी एवं प्रखंड स्तरीय पदाधिकारी और अन्य पदाधिकारियों को गुरुवार को विद्यालय निरीक्षण काम में लगाएं। यानी गुरुवार को भी विद्यालय से अनुपस्थित रहने वाले शिक्षकों पर सस्पेंड होने की तलवार लटक गई है।

शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव और टीईटी शिक्षकों के बीच विवाद बढ़ता ही जा रहा है।

शिक्षा विभाग ने अतिथि शिक्षक नियुक्ति का जारी किया शेड्यूल