JDU के कई विधायक लापता, विपक्ष का दावा हमारे संपर्क में हैं MLA

JDU के कई विधायक लापता, विपक्ष का दावा हमारे संपर्क में हैं MLA

JDU के कई विधायक लापता, विपक्ष का दावा हमारे संपर्क में हैं MLA। बिहार विधान सभा में 12 फरवरी को सदन में नीतीश कुमार को साबित करना है बहुमत।

बिहार विधानसभा में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को सिर्फ चार दिन बाद 12 फरवरी बहुमत साबित करना है। इस बीच आज गुरुवार को राजनीतिक गलियारे में एक खबर से हंगामा हो गया। खबर है कि जदयू के कई विधायक लापता हैं। वे जदयू के संपर्क में नहीं हैं। इस खबर को तब और भी बल मिल गया, जब कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अखिलेश प्रसाद सिंह ने दावा किया कि जदयू के कई विधायक उनके संपर्क में हैं। जदयू के कई विधायक राजद प्रमुख लालू प्रसाद और तेजस्वी यादव के सीधे संपर्क में हैं, ऐसी भी खबरें हैं। हालांकि जदयू के नेता और मंत्री श्रवण कुमार ने इन खबरों का खंडन किया और कहा कि जदयू के सारे विधायक एकजुट हैं।

हफ्ते भर पहले जब राहुल गांधी भारत जोड़ो न्याय यात्रा के तहत पूर्णिया पहुंचे थे, तब मीडिया में खबरें चली थीं किकांग्रेस के कई विधायक लापता हैं और वे जदयू के संपर्क में हैं। हालांकि उस खबर में सत्य नहीं था और कांग्रेस के सारे विधायक राहुल गांधी के कार्यक्रम में उपस्थित थे। आज भी कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष ने दावा किया कि उनके सारे विधायक पार्टी के संपर्क में हैं। सबके फोन ऑन हैं और सभी विधायक एकजुट हैं।

12 फरवरी को बिहार में क्या होगा यह बड़ा सवाल बना हुआ है। दरअसल तेजस्वी यादव ने भी चार दिन पहले कहा था कि अभी असली खेला होगा। उन्होंने कहा था कि 2024 में जदयू समाप्त हो जाएगा। लिख लीजिए। मैं जो कहता हूं वह करता हूं। उनके दावे को भी ध्यान में रखते हुए राजनीतिक हलके में तरह-तरह की चर्चा हो रही है। इस बात में कोई दो मत नहीं कि एनडीए के कई विधायक और घटक नाराज चल रहे हैं। जीतनराम मांझी अपनी नाराजगी खुल कर जता चुके हैं। बिहार में एनडीए सरकार के पास बहुमत से सिर्फ छह विधायक ज्यादा हैं। अगर छह-सात विधायक टूट गए, अनुपस्थित हो गए अथवा सरकार के खिलाफ वोट कर दिया, तो राज्य की नीतीश सरकार संकट में फंस जाएगी।

1.60 लाख सैलरीवाले PM महीने में दो करोड़ के सूट कैसे पहनते हैं? : राहुल