1.60 लाख सैलरीवाले PM महीने में दो करोड़ के सूट कैसे पहनते हैं? : राहुल

1.60 लाख सैलरीवाले PM महीने में दो करोड़ के सूट कैसे पहनते हैं? : राहुल

1.60 लाख सैलरीवाले PM महीने में दो करोड़ के सूट कैसे पहनते हैं? : राहुल। कांग्रेस सांसद ने कहा प्रधानमंत्री जी जन्म से OBC नहीं हैं। राहुल का जबरदस्त हमला।

भारत जोड़ो न्याय यात्रा के दौरान कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जबरदस्त राजनीतिक हमला किया है। कहा कि प्रधानमंत्री जी की सैलरी 1 लाख 60 हजार है। वे महीने में 2-3 करोड़ के सूट कैसे पहनते हैं? उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री की सैलरी 1 लाख 60 हजार रुपए है। वे दिनभर बदल-बदलकर लाखों के सूट पहनते हैं। 1 लाख 60 हजार की सैलरी वाले प्रधानमंत्री जी महीने में 2-3 करोड़ के सूट कैसे पहनते हैं? इसका पैसा कहां से आ रहा है? राहुल के इस प्रश्न के जवाब में भीड़ ने जवाब दिया अडानी। अडानी के यहां से आ रहा पैसा। राहुल गांधी ओड़िशा में न्याय यात्रा समाप्त करके छत्तीसगढ़ में प्रवेश कर गए। इसी अवसर पर उन्होंने सभा को संबोधित करते हुए ये बातें कहीं।

कांग्रेस सांसद ने आगे कहा कि प्रधानमंत्री जी जन्म से ओबीसी नहीं हैं। उन्हें सरकार ने ओबीसी बनाया। इसीलिए वे ओबीसी के पक्ष में कोई काम नहीं करते। हमने कहा कि देश में कितने ओबीसी हैं, इसका पता लगाने के लिए जाति गणना कराइए, लेकिन उसके बाद से वे खुद को ओबीसी नहीं बोलते। अब कहते हैं कि देश में कोई जाति है ही नहीं।

राहुल गांधी ने कहा मैंने 200 कार्पोरेट कंपनियों के आंकड़े निकाले। उनके टॉप मैनेजमेंट में, मालिकों की लिस्ट में कोई भी OBC, दलित और आदिवासी नहीं हैं। यही नहीं, इन कंपनियों में गरीब सामान्य वर्ग का व्यक्ति भी नहीं है। अडानी की कंपनी में आप दिखा दीजिए कि कौन सा गरीब सामान्य वर्ग का, OBC, दलित और आदिवासी व्यक्ति ऊंचे पद पर है। जिस दिन मुझे दिख जाएंगे मैं जातिगत जनगणना नहीं मांगूगा। लेकिन उस दिन तक मैं जातिगत जनगणना करवाकर दिखाऊंगा। राहुल ने कहा मुझसे एक पत्रकार ने पूछा कि “राहुल जी, आप जाति जनगणना और हक की बात कर रहे हैं, तो क्या इससे देश नहीं बंट रहा है?” मैंने जवाब में उनसे पूछा कि “मीडिया में, कितने अखबारों के मालिक पिछड़े, दलित,आदिवासी वर्ग से हैं?- वह चुप हो गया।

झारखंड में अब 125 यूनिट बिजली फ्री, बिहार में क्या होगा?