जिनकी साड़ी खींची गई, उन सपा महिला नेताओं से मिलीं प्रियंका

जिनकी साड़ी खींची गई, उन सपा महिला नेताओं से मिलीं प्रियंका

यूपी ब्लॉक प्रमुख चुनाव में समाजवादी पार्टी की दो नेताओं के साथ अपमानजनक व्यवहार किया गया था। आज प्रियंका गांधी दोनों महिलाओं से मिलीं। जानिए क्या कहा-

चंद दिनों पहले यूपी ब्लॉक प्रमुख के चुनाव में प्रत्याशियों के साथ मारपीट, नामांकन पत्र छीनने की कई घटनाएं हुईं थी। इनमें एक महिला के साथ बदतमीजी किए जाने का वीडियो वायरल हुआ था। सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने भाजपा के ‘गुंडों’ पर आरोप लगाया था कि उन्होंने सपा प्रत्याशी रितू सिंह और प्रस्तावक अनीता यादव के साथ मारपीट की। साड़ी खींचने की कोशिश की। घटना नौ जुलाई को लखीमपुर की है।

अबतक अखिलेश यादव उन महिला नेताओं से मिलने नहीं पहुंचे, लेकिन कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने आज उनसे मुलाकात की। उन्होंने दोनों महिला नेताओं को हिम्मत दी। बाद में उन्होंने पत्रकारों से बात करते हुए वहां हुए चुनाव को रद्द करने की मांग की।

प्रियंका गांधी ने ट्वीट किया-लोकतंत्र का चीरहरण करने वाले भाजपा के गुंडे कान खोलकर सुन लें, महिलाएँ प्रधान, ब्लॉक प्रमुख, विधायक, सांसद, मुख्यमंत्री, प्रधानमंत्री बनेंगी और उनपर अत्याचार करने वालों को शह देने वाली सरकार को शिकस्त देंगी। पंचायत चुनाव में भाजपा द्वारा की गयी हिंसा की शिकार अपनी सभी बहनों, नागरिकों के न्याय के लिए मैं राज्य चुनाव आयोग को पत्र लिखूंगी।

इस बीच यूपी पुलिस ने प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू सहित कांग्रेस के 500 कार्यकर्ताओं पर कोविड के नियम तोड़ने को लेकर मुकदमा कर दिया है। मालूम हो कि कल ही प्रियंका गांधी कार्यकर्ताओं के साथ लखनऊ में गांधी प्रतिमा के नीचे मौन बैठी थीं। मुकदमे के बाद अजयु कुमार लल्लू ने कहा कि-इतिहास गवाह है। आरएसएस के लोगों ने मुकदमें और जेल से डरकर माफी मांगी है और वहीं कांग्रेस के लोगों ने कुर्बानियां दी हैं। जितने मुकदमें करने है, कर लो। बापू के दिखायें राह पर चलकर तुमको सत्ता से उखाड़ फेंकेंगे। जय हिंद

Exclussive बालू लूट के संरक्षक इन IPS अफसरों को जानिये

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*