महिला दिवस के दो रंग : महिला मंत्री की मांग और RJD की पहल

महिला दिवस के दो रंग : महिला मंत्री की मांग और RJD की पहल

महिला दिवस पर बिहार विधानमंडल में दो अलग-अलग रंग दिखे। जहां दुनिया आज महिलाओं के संघर्ष को सलाम कर रही, वहीं सरकार की मंत्री ने की कुछ और ही मांग।

आज अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर बिहार विधानमंडल में दो भिन्न रंग देखने को मिले। आज पूरी दुनिया में महिलाओं के हक-अधिकार, बराबरी, सम्मान के लिए संघर्ष करनेवाली महिलाओं को सलाम किया जा रहा है, ऐसे कार्यक्रम हो रहे हैं, जिससे महिलाएं अपनी ताकत, एकजुटता का एहसास कर सकें, वहीं राज्य सरकार की मंत्री लेशी सिंह ने आज विधान परिषद में अजीब मांग की। उन्होंने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को भारत रत्न देने की मांग की। आज के दिन किसी महिला मंत्री द्वारा ऐसी मांग महिलाओं की गैरबराबरी के खिलाफ बराबरी के संघर्ष के विपरीत है। वे यह मांग किसी और दिन कर सकती थीं, लेकिन आज के दिन करना बराबरी नहीं, बल्कि पुरुषों के पीछे चलने की मानसिकता ही है। मालूम हो कि यह वही मंत्री हैं, जिनके एक रिश्तेदार पर हत्या का मामला चल रहा है और उस मामले में मंत्री पर भी विपक्ष ने आरोप लगाए थे।

उधर, राज्य में विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने एक नई पहल की। आज दोनों सदन में राजद की तरफ से सिर्फ महिला विधायक ही सवाल कर रही हैं। विधानसभा और विधान परिषद में राजद महिला विधायकों ने महिलाओं से संबंधित सवाल उठाए। क्षेत्र के सवाल के उटाए। कांग्रेस की महिला विधायक नीतू सिंह ने वृद्धाश्रम की बदहाली का सवाल उठाया।

आज विधानसभा में महिला दिवस पर सत्ता पक्ष और विपक्ष ने एक दूसरे को घेरा। विपक्ष ने एक दिन के लिए किसी महिला को मुख्यमंत्री बनाने की मांग की, तो सत्ता पक्ष ने किसी महिला को विरोधी दल का नेता बनाने की मांग की।

राजद ने ट्वीट किया-#InternationalWomensDay को देखते हुए नेता विरोधी दल श्री @yadavtejashwi जी ने निर्णय लिया है कि आज राष्ट्रीय जनता दल की सभी महिला विधायकें ही पार्टी की ओर से विधानसभा में सवाल पूछेंगी। #महिलादिवस पर #महिला शक्ति को नमन।

BJP MLA पर जबतक नीतीश न बोलेंगे, तब तक चुप न बैठेगा RJD

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*