नीतीश दूसरे दिन भी विधायकों से मिले, पहले चुनाव हुए तो भी तैयार

नीतीश दूसरे दिन भी विधायकों से मिले, पहले चुनाव हुए तो भी तैयार

नीतीश दूसरे दिन भी विधायकों से मिले, पहले चुनाव हुए तो भी तैयार। मुख्यमंत्री के करीबी मंत्री ने कह दिया समय से पहले लोकसभा चुनाव हुए, तब भी पार्टी तैयार।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने लगातार दूसरे दिन पार्टी विधायकों और विधान पार्षदों से एक-एक कर मुलाकात की। मुख्यमंत्री के करीबी मंत्री विजय कुमार चौधरी ने इस संबंध में पूछे जाने पर कहा कि केंद्र की मोदी सरकार की हालत खराब है। जनता में नाराजगी बढ़ती जा रही है। ऐसे में मोदी सरकार समय से पहले नवंबर-दिसंबर में ही लोकसभा चुनाव करा सकती है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व में पूरी पार्टी समय से पहले चुनाव होने पर भी तैयार है।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कल शुक्रवार को भी विधायकों और विधान पार्षदों से मुलाकात की थी। आज भी सुबह से वे एक-एक करके विधायकों से मुलाकात कर रहे हैं। पार्टी नेताओं ने बताया कि मुख्यमंत्री क्षेत्र का फीडबैक ले रहे हैं। वे लोकसभा चुनाव की तैयारी के संबंध में भी विधायकों को टिप्स दे रहे हैं। वे बता रहे हैं कि भाजपा के खिलाफ किन मुद्दों के प्रचार पर जोर देना है। वे बिहार सरकार के कार्यों, उसकी उपलब्धि के बारे में जनता के बीच जा कर प्रचार करने को भी कह रहे हैं।

याद रहे मुख्यमंत्री हर चुनाव से पहले विधायकों से एक-एक करके मुलाकात करते रहे हैं। इससे सांसदों के प्रति जनता के रुख का पता चलता है। वे फीडबैक लेते हैं और फिर उस पर विचार के रणनीति बनाते हैं।

इस बीच आज शनिवार को जदयू व्यावसायिक एवं उद्योग प्रकोष्ठ तथा जदयू शिक्षा प्रकोष्ठ ने ‘‘हाटे बाजार-नीतीशे कुमार जनसम्पर्क अभियान’’ की शुरुआत की। अभियान का प्रारंभ मोतिहारी से किया गया। अभियान का नेतृत्व ललन सर्राफ, मंत्री सुनील कुमार, विधानपार्षद व जदयू के मुख्य प्रवक्ता नीरज कुमार, विधायक शालिनी मिश्रा, शिक्षा प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष डाॅ अमरदीप, जदयू व्यावसायिक एवं उद्योग प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष धनजी प्रसाद, पूर्व विधानपार्षद सतीश कुमार, प्रदेश पदाधिकारी मुकेश जैन व अन्य कर रहे हैं।

UCC पर चिराग ने पकड़ी भाजपा से अलग राह, समर्थन नहीं