चुनाव रणनीतिकार रह चुके और जन सुराज के नेता प्रशांत किशोर 2025 बिहार विधानसभा चुनाव में सभी 243 सीटों पर प्रत्याशी देंगे। खास बात यह कि वे 75 मुस्लिम प्रत्याशी उतारेंगे यानी 31 प्रत्याशी मुस्लिम होंगे। वे अपनी पार्टी को इसी साल दो अक्टूबर को लॉन्च करेंगे। खबरों के मुताबिक वे बड़ी संख्या में दलित प्रत्याशी भी उतारेंगे। वे पार्टी का नेतृत्व करने के लिए 21 सदस्यों की कमेटी गठित करेंगे।

प्रशांत किशोर इतनी बड़ी संख्या में मुस्लिम प्रत्याशी उतारेंगे, तो उसका मकसद क्या है। जाहिर है खुद चुनाव जीतना उनका मकसद नहीं हो सकता। 75 मुस्लिम प्रत्याशी तो मुस्लिमों की पार्टी कहनेवाले दलों ने भी कभी नहीं उतारे। राजनीतिक जानकारों का मानना है कि उनका मकसद राजद और कांग्रेस को नुकसान पहुंचाना है। मुसलमानों का झुकाव इंडिया गठबंधन की तरफ बढ़ा है। सबसे ज्यादा वोट राजद को मिलता रहा है। बिहार से कांग्रेस के तीन सांसदों में दो मुस्लिम हैं, तो कांग्रेस को भी नुकसान हो सकता है।

प्रशांत किशोर ने डेढ़ साल पहले दो अक्टूबर, 2022 को चंपारण से पदयात्रा शुरू की थी। अब तक वे पांच हजार किमी चल चुके हैं। वे कहते रहे हैं कि बिहार विधानसभा चुनाव लड़ेंगे, लेकिन अपनी रणनीति कभी साफ-साफ नहीं बताई। अब जबकि खबरें हैं कि वे 75 मुस्लिम प्रत्याशी उतारेंगे, तो स्पष्ट है कि उनका निशाना भाजपा नहीं है, बल्कि राजद और इंडिया गठबंधन के वोट को तोड़ना है। ज्यादा मुस्लिम प्रत्याशी होने से इंडिया गठबंधन का वोट बंट सकता है।

————-

18 की मौत पर नीतीश का कोई सवाल नहीं, अखिलेश ने पूछे 6 सवाल

———–

इधर राजद पहले से कहता रहा है कि प्रशांत किशोर भाजपा के लिए काम कर रहे हैं। याद दिला दें कि लोकसभा चुनाव के दौरान जब योगेंद्र यादव ने मजबूती से बात रखी कि भाजपा को 300 सीटें नहीं आ सकतीं, वह 240 से 260 के बीच सिमट जाएगी। उनका आकलन देश में सबसे सही निकला। योगेंद्र यादव के दावे के बाद प्रशांत किशोर ने लगातार इंटरव्यू देकर दावा किया था कि भाजपा को अकेले 300 से ज्यादा सीटें आ रही हैं, जो पूरी तरह गलत साबित हुआ।

मोदी के बाल बुद्धिवाले हमले के बाद कांग्रेस का बैल बुद्धि वाला जवाब

By Editor


Notice: ob_end_flush(): Failed to send buffer of zlib output compression (0) in /home/naukarshahi/public_html/wp-includes/functions.php on line 5420