प्रियंका ने क्यों कहा मोदी जी सलमान खान की तरह रोते ही रहते हैं

प्रियंका ने क्यों कहा मोदी जी सलमान खान की तरह रोते ही रहते हैं। मप्र में कांग्रेस महासचिव के भाषण पर हंसी के छूटे फव्वारे। खुद प्रियंका भी न रोक पाईं हंसी।

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने मप्र की सभा में ऐसी बात कही कि हंसी के फव्वारे फूच पड़े। खुद प्रियंका भी अपनी हंसी नहीं रोक पाईं। उन्होंने कहा कि मोदी जैसे देश के कोई प्रधानमंत्री नहीं हुए। ये ऐसे पहले पहले प्रधानमंत्री हैं, जो हमेशा रोते रहते हैं। कर्नाटक में चुनाव था। वहां लिस्ट लेकर पहुंच गए कि देखो मुझे इतनी बाक गालियां दी गईं। अब यहां चुनाव है, तो यहां भी रोने लगे। कहने लगे कि उन्हें गाली दी जा रही है। इसके बाद प्रियंका गांधी ने सामने भीड़ से पूछा कि आपने सलमान खान की फिल्म तेरे नाम देखी है? फिर बताया कि पूरी फिल्म में सलमान रोते रहते हैं। एक नई फिल्म इन्हें बनानी चाहिए जिसका नाम मेरे नाम हो और उसमें मोदी जी रोते रहें। उनका इतना कहते ही सभा में हजारों लोग हंस पड़े।

प्रियंका गांधी ने कहा कि मध्य प्रदेश में खाद के लिए लंबी-लंबी कतारें लगी हैं। यहां खाद नहीं मिल रही। कारण- मध्य प्रदेश में चुनाव के समय खाद की बोरियों पर मोदी जी की फोटो चिपका दी गई, जिस कारण चुनाव आयोग ने खाद के वितरण पर रोक लगा दी। इसलिए यहां के किसान परेशान हैं, उनका समय बर्बाद हो रहा है।

उन्होंने कहा कि गांधी जी कहते थे कि जब तक हमारे गांव मजबूत नहीं होंगे, तब तक यह देश पूरी तरह से स्वतंत्र नहीं हो सकता। इसलिए हम मनरेगा लेकर आए, खेती-किसानी पर जोर डाला, पंचायतों को सशक्त किया। कांग्रेस की सरकारों ने गांधी जी की इसी सोच पर काम किया है। BJP की सरकार सिर्फ बड़े उद्योगपतियों के लिए काम कर रही है। अडानी जी के हजारों करोड़ रुपए माफ किए जा रहे हैं और उन्हें देश की संपत्तियां सौंपी जा रही हैं। इससे बड़ा भ्रष्टाचार और क्या होगा कि आपने देश की संपत्ति उठाकर एक उद्योगपति के हाथ में रख दी है।

कहा कि BJP ने कहा- महिला आरक्षण देंगे। लेकिन 10 साल तक महिला आरक्षण लागू ही नहीं हो सकता। अब चुनाव आ रहा है तो लाडली योजना की बात कर रहे हैं। वही कांग्रेस की सरकारों में महिलाओं के लिए खूब काम हुए हैं। आंगनबाड़ी बहनों का मानदेय बढ़ाया गया। स्व सहायता समूहों के कर्ज माफ हुए।

लालू के नित्यानंद पर बड़े आरोप के बाद भी BJP की चुप्पी के क्या मायने

By Editor


Notice: ob_end_flush(): Failed to send buffer of zlib output compression (0) in /home/naukarshahi/public_html/wp-includes/functions.php on line 5420