राज्यसभा सदस्यता गई, मंत्री पद भी गया, अब क्या करेंगे RCP

राज्यसभा सदस्यता गई, मंत्री पद भी गया, अब क्या करेंगे RCP

प्रधानमंत्री मोदी ने केंद्रीय मंत्रिमंडल की बैठक में आरसीपी सिंह के इस्तीफे का संकेत दे दिया। राज्यसभा सदस्यता गई, मंत्री पद भी गया, अब क्या करेंगे RCP?

दक्षिण भारत के मंदिर में आरसीपी सिंह। फोटो-उनके फेसबुक पोस्ट से।

आज बुधवार को केंद्रीय मंत्रिमंडल की बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आरसीपी सिंह के मंत्री पद छोड़ने का संकेत दे दिया। प्रधानमंत्री मोदी ने आरसीपी सिंह के योगदान की सराहना की। योगदान की सराहना का अर्थ ही है कि केंद्रीय मंत्रिमंडल की आज हुई बैठक आरसीपी सिंह की आखिरी बैठक थी। कभी भी उनके इस्तीफे की खबर आ सकती है। अब इसी के साथ सबसे बड़ा सवाल है कि आरसीपी सिंह अब क्या करेंगे? हैदराबाद में भाजपा नेताओं ने उनका स्वागत किया था। वे भाजपा कार्यकारिणी बैठक के दौरान भाजपा नेताओं से मिले। हालांकि फिलहाल उन्होंने औपचारिक तौर पर भाजपा ज्वाइन नहीं की है। क्या वे राष्ट्रपति चुनाव के बाद भाजपा में शामिल होंगे?

अब यह पूरी तरह स्पष्ट हो चुका है कि वे मन से भाजपा के साथ हो गए हैं। हफ्ते भर पहले जदयू संसदीय बोर्ड के अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा ने कहा था कि आरसीपी सिंह को इस्तीफा दे देना चाहिए, लेकिन उन्होंने पार्टी का कहना मानने से इनकार कर दिया। अब सबकी नजर आरसीपी सिंह के अगले कदम पर है।

संभव है फिलहाल आरसीपी बिहार नहीं आएं। वे दिल्ली में ही डेरा जमाए रहें। राष्ट्रपति चुनाव 18 जुलाई को है। उससे पहले उनके भाजपा में जाने से जदयू को नाराजदी हो सकती है। एनडीए की नकारात्मक छवि बन सकती है। इसीलिए वे 18 जुलाई बीत जाने का इंतजार कर सकते हैं।

अब इसकी उम्मीद बहुत कम है कि वे जदयू में रहेंगे। अब जदयू से उनके रिश्ते इतने बिगड़ चुके हैं कि उनका फिर से जदयू में लौटना फिलहाल असंभव लग रहा है। हालांकि कुछ लोगों को अब भी उम्मीद है कि भाजपा से झटका मिलने के कारण वे जदयू की तरफ फिर से रुख कर सकते हैं। अगर वे भाजपा में शामिल होते हैं, तो बिहार एनडीए में संघर्ष का नया चैप्टर खुल सकता है।

ZeeNews के एंकर रोहित रंजन भगोड़ा घोषित, अब कुर्की की तैयारी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*