ZeeNews के एंकर रोहित रंजन भगोड़ा घोषित, अब कुर्की की तैयारी

ZeeNews के एंकर रोहित रंजन भगोड़ा घोषित, अब कुर्की की तैयारी

आज छत्तीसगढ़ पुलिस ने ZeeNews के एंकर रोहित रंजन भगोड़ा घोषित कर दिया। इसके बाद अब पुलिस न्यायालय से कुर्की-जब्ती का आदेश लेने की तैयारी में।

रोहित रंजन के घर रायपुर पुलिस। घर में ताला बंद।

जी न्यूज के एंकर रोहित रंजन को गिरफ्तार करने जब छत्तीसगढ़ पुलिस पहुंची, तो उन्हें गिरफ्तार करने से पहले नोएडा की पुलिस पहुंच गई। फिर क्या हुआ, इसे देश ने देखा। अब खबर है कि छत्तीसगढ़ पुलिस ने एंकर रोहित रंजन को भगोड़ा घोषित कर दिया है। पुलिस अब कुर्की-जब्ती की तैयारी में है।

इस बीच जी न्यूज के एंकर रोहित आज सुप्रीम कोर्ट पहुंच गए। आश्चर्य तो यह है कि सुप्रीम कोर्ट तुरत मामले की सुनवाई को तैयार हो गया। इसी देश में कप्पन लगभग दो वर्ष से जेल में हैं और ऑल्ट न्यूज के पत्रकार मो. जुबैर पर नए केस लादे जा रहे हैं। उन्हें पुलिस कभी दिल्ली तो कभी यूपी के शहरों में ले जा रही है। लेकिन रोहित के मामले पर सुप्रीम कोर्ट तुरत सुनवाई को तैयार हो गया।

पत्रकार रणविजय सिंह ने लिखा-रोहित रंजन ‘फरार’ घोषित, छत्तीसगढ़ पुलिस तलाश में जुटी। रायपुर पुलिस ने जानकारी दी कि पुलिस टीम आज सुबह क़रीब 9 बजे आरोपी रोहित रंजन ज़ी न्यूज़ ऐंकर के ग़ाज़ियाबाद स्थित निवास पहुँची। घर लॉक एवं आरोपी फ़रार पाए जाने से आरोपी का फ़रारी पंचनामा तैयार किया गया है। अन्य संभावित स्थानों में भी आरोपी की पतासाजी की जा रही है।

क्या अब नाम देक कर कानून काम कर रहा है? क्या जुबैर गिरफ्तारी से बचने के लिए अपने घर में ताला बंद करके गायब होते, तो अब तक उनके घर पर बुलडोजर नहीं चल गया होता? रायुपर पुलिस की जानकारी के बाद लोग रोहित रंजन पर खूभ तंज कस रहे हैं कि उसे ताला बंद कर फरार होना पड़ा। अब तो एक ही रास्ता है कि सुप्रीम कोर्ट उनके खिलाफ सभी कार्रवाई पर रोक लगा। लेकिन रोक लगाने के बाद भी मामला खत्म नहीं होगा। तो क्या कोर्ट उनके एकतरफा निर्दोष साबित कर सकता है?

इस बीच जी न्यूज भी खुलकर मैदान में आ गया है। वह हैशटैग यूज कर रहा है-जी न्यूज नहीं झुकेगा। अब देखना है कि यह लड़ाई कितना आगे जाती है। नोएडा पुलिस, यूपी पुलिस अब क्या करती है, यह भी देखना होगा। किधर जा रहा है देश?

25 साल का हुआ राजद, संघ को उखड़ फेंकने का लिया संकल्प

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*