सिंगापुर से लौटे भी नहीं लालू, CBI ने बंद केस फिर से खोला

सिंगापुर से लौटे भी नहीं लालू, CBI ने बंद केस फिर से खोला

लालू प्रसाद किडनी के इलाज के लिए सिंगापुर में हैं। माना जा रहा है कि लौटते ही वे फिर भाजपा विरोधी दलों के एकजुट करेंगे, उससे पहले ही CBI ने खोला बंद केस ।

राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद अभी अपनी किडनी के इलाज के सिलसिले में सिंगापुर में हैं। माना जा रहा है कि वे वहां लौट कर देश के भाजपा विरोधी दलों को एकजुट करना का प्रयास करेंगे। सिंगापुर जाने से पहले उन्होंने देश के सभी प्रमुख भाजपा विरोधी दलों के नेताओं से मुलाकात की थी। अब जबकि उनके सिंगापुर से लौटने का समय नजदीक आ रहा है, तभी CBI ने उनके खिलाफ पुराने मामले फिर से खोल दिए हैं। सीबीआई ने भ्रष्टाचार के जिस मामले को सबूतों के अभाव में 2021 में ही बंद कर दिया था, उसे दुबारा फिर खोलने जा रही है।

उस केस में लालू प्रसाद के छोटे बेटे और राज्य के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी प्रसाद भी आरोपी हैं। लालू प्रसाद पर आरोप है कि यूपीए सरकार के समय जब लालू प्रसाद रेल मंत्री थे, तब मुंबई में रीयल इस्टेट डीएलएफ को रेलवे की जमीन को निजी फायदे के लिए लीज पर दी।

मालूम हो कि जब से मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद तथा तेजस्वी यादव के बीच नजदीकियां बढ़ीं, तभी से लालू परिवार के यहां केंद्रीय एजेंसियों के यहां छापे पड़ने शुरू हो गए। यही नहीं, लालू प्रसाद के करीबी नेताओं के घरों पर भी छापे पड़े। इनमें कई विधायक व सांसद भी हैं।

इधर, राजद ने केंद्र सरकार पर केंद्रीय एजेंसियों के दुरुपयोग का आरोप लगाया है। राजद नेताओं ने कहा कि भाजपा नहीं चाहती कि लालू प्रसाद देश भर में केंद्र की मोदी सरकार के खिलाफ राजनीतिक अभियान चलाएं। इससे पहले तेजस्वी यादव ने कहा कि सीबीआई को उनके घर पर ही अपना दफ्तर खोल लेना चाहिए।

Nikhat Zareen का जलवा, जीत ली नेशनल बॉक्सिंग चैंपियनशिप