Sri Lanka : गोदी मीडिया को फूंक दिया, NDTV पत्रकार को बचाया

Sri Lanka : गोदी मीडिया को फूंक दिया, NDTV पत्रकार को बचाया

Sri Lanka में आंदोलनकारियों ने गोदी मीडिया को तहस-नहस कर दिया। इसलिए प्रसारण बंद हो गया। आंसू गैस से परेशान NDTV की महिला पत्रकार को भीड़ ने बचाया।

अब श्रीलंका की सड़कों पर जगह-जगह पुलिस-सेना तथा आंदोलनकारी आमने-सामने हैं। हर जगह भीड़ आंसू गैस के धुएं उठते दिख रहे हैं। पूरे श्रीलंका में आपातकाल की घोषणा कर दी गई है। कई शहरों में कर्फ्यू लगाया गया है, लेकिन उसका कोई असर नहीं दिख रहा है। इस बीच आज आंदोलनकारियों ने गोदी मीडिया को तहस-नहस कर दिया। आग लगा दी। इसलिए प्रसारण बंद करना पड़ा। वहीं आंदोलनकारियों का एक दूसरा रूप भी दिखा, जिसमें भीड़ आंसू गैस से परेशान NDTV की महिला पत्रकार को बचा रही है।

पीटीआई के अनुसार आज आंदोलनकारियों ने श्रीलंका के सरकारी टीवी रूपाविहिनी को तहस-नहस कर दिया। आग लगा दी। इसके बाद इसका प्रसारण बंद करना पड़ा। श्रीलंका रूपवाहिनी कॉरपोरेशन (SLRC) ने कहा कि लाइव और रिकॉर्डेड दोनों तरह के कार्यक्रम बंद कर दिए गए हैं।

आज ही आंदोलनकारियों का एक मानवीय चेहरा तब दिखा, जब लगातार कई दिनों से लाइव रिपोर्ट कर रही एनडीटीवी की महिला पत्रकार को लोगों ने बचाया। चारों तरफ आंसू गैस के गोले से के बावजूद भीड़ डटी थी। उसी भीड़ में एनडीटी की पत्रकार भी थीं, जो आंसू गैस के कारण परेशान हो गईं। तब आंदोलनकारियों ने महिला पत्रकार के चेहरे पर पानी के छींटे मारे और उन्हें पीने के लिए भी पानी दिया। इसके बाद पत्रकार ने राहत महसूस की। महिला पत्रकार कुछ ही देर में फिर से लाइव रिपोर्ट करने लगीं। देखिए वीडियो-

श्रीलंका में आज स्थिति बिगड़ गई है। राहत की बात यही है कि पुलिस ने कहीं भी सीधे भीड़ पर गोली नहीं चलाई है और इसीलिए किसी की जान नहीं गई है। पुलिस हर जगह आंसू गैस के गोले छोड़ रही है, जिसका कोई असर नहीं पड़ रहा है। आंदोलनकारियों की मांग है कि पूरा मंत्रिमंडल इस्तीफा दे और नई सरकार शासन संभाले। आज राजपक्षे इस्तीफा देनेवाले थे, पर अब तक नहीं दिया है। वे जिन मुसलमानों के खिलाफ जहर उगलते रहे, उन्हीं मुसलमानों की बहुलता वाले मालदीव में भाग कर पहुंचे हैं।

बड़े नेता नाराज न हों, इसलिए DM को बचा रहे CM : RJD

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*