विश्व रिकॉर्ड : चमकाया जा रहा अस्पताल, दूसरे नहीं, चौथे दिन शोक

विश्व रिकॉर्ड : चमकाया जा रहा अस्पताल, दूसरे नहीं, चौथे दिन शोक

मोदी सरकार जो करती है, रिकॉर्ड होता है। गुजरात में 2 विश्व रिकॉर्ड। प्रधानमंत्री घायलों को देखेंगे। रात भर अस्पताल में लगी नई टाइल्स। हादसे के चौथे दिन शोक।

केंद्र की मोदी सरकार जो करती है, वह विश्व में पहली बार होता है। नोटबंदी, जीएसटी, लॉकडाउन, लाखों दीए, सब अपने तरह के विश्व रिकॉर्ड में शुमार हैं। अब गुजरात की भाजपा सरकार को फिर से दो नए रिकॉर्ड बनाने का असवर मिला है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मोरबी पुल हादसे के तीसरे दिन मंगलवार को अस्पताल में घायलों को देखने जाएंगे। हालांकि कई घायल घर जा चुके हैं। प्रधानमंत्री के वहां पहुंचने से पहले कल दिन और रात भर मजदूर युद्ध स्तर पर अस्पताल की रंगाई-पुताई में लगे हैं। नई टाइल्स लगाई जा रही है। जिस रास्ते प्रधानमंत्री मोदी अस्पताल जाएंगे, उस रास्ते पर नई पिच बिछाने का काम भी रात भर चलता रहा।

एक और महत्वपूर्ण बात, जिसकी कम चर्चा हो रही है। अमूमन किसी बड़े नेता के निधन या किसी हादसे में मृतकों के प्रति शोक जताने के लिए घटना के दूसरे दिन सरकार राजकीय शोक की घोषणा करती है। गुजरात सरकार ने हादसे के चौथे दिन अर्थात 2 नवंबर को शोक की घोषणा की है। दूसरे दिन के बदले चौथे दिन शोक मनाने के पीछे क्या वजह है, यह पाठक खुद समझें।

इधर, शोक के अवसर पर अस्पताल को चमकाने पर देश भर में तीखी प्रतिक्रियाएं आई हैं। कांग्रेस, बिहार में राजद सहित अनेक दलों ने इसे संवेदनहीनता कहा है। कांग्रेस प्रवक्ता पवन खेड़ा ने कहा-आज रात को मोरबी का सिविल हॉस्पिटल सजाया जा रहा है। नई टाइल्ज़ लगाई जा रही हैं, रंग रोगन किया जा रहा है। कल प्रधान मंत्री जी पुल हादसे में घायल लोगों का हाल चाल पूछने आ रहे हैं। क्या ये है गुजरात का लीपा पोती मॉडल?

राजद ने कहा-आज उसी अस्पताल को सजाया-संवारा जा रहा है जहां वो खानापूर्ति करने जा रहे है।अस्पताल के अंदर सैंकड़ों लाशों का ढ़ेर है।पूरा देश #गुजरात हादसे से गमजदा है लेकिन एक विशेष शख़्स ड्रेस बदलने व फोटो खिंचवाने में मस्त और व्यस्त है। जहां लाशें पड़ी हो वहाँ कोई रंगाई पुताई करवाता है क्या?

हादसे के बाद स्वास्थ्य मंत्री घटनास्थल पर जाने के बजाय पार्टी में केक काटते रहे। देखिए, वीडियो-

तेजस्वी के साथ आना था गोपालगंज…नीतीश ने भेजा वीडियो संदेश

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*