आगजनी व तोड़फोड़ के बाद छपरा में शांति, सतर्कता बरकरार

रविवार की देर रात मूर्ति विसर्जन के दौरान पुलिस व पूजा समितियों के बीच उत्‍पन्‍न विवाद ने सोमवार को उग्र रूप धारण कर लिया था। उपद्रवियों ने कई वाहनों को फूंक दिया और जगह-जगह पर तोड़फोड़ भी की। स्थिति पर काबू पाने के लिए एडीजी मुख्‍यालय गुप्‍तेश्‍वर पांडेय व ऊर्जा सचिव प्रत्‍यय अमृत ने छपरा में कैंप कर शांति व्‍यवस्‍था की अपील की। स्‍थानीय विधायक रणधीर सिंह व अन्‍य नेताओं ने भी शांति बहाल करने की अपने स्‍तर पर पहल की। आज स्थिति सामान्‍य हो गयी है। हालांकि पुलिस स्थिति पर नजर रख रही है और सतर्कता बनाए हुए है।

 

उल्‍लेखनीय है दुर्गा प्रतिमा विसजर्न को लेकर हुए विवाद ने कल छपरा शहर को अशांत कर दिया था। इस दौरान उपद्रवियों ने जम कर आगजनी और रोड़ेबाजी की। विवाद प्रतिमा विसजर्न की समयसीमा को लेकर शुरू हुआ। प्रशासन द्वारा विसजर्न की तय समयसीमा गुजर जाने के बाद विसजर्न जुलूस को एक जगह रोक दिया गया। इसे लेकर पुलिस और पूजा समिति के बीच पैदा हुआ विवाद आगजनी, तोड़फोड़ और हिंसा में बदल गया। इस दौरान उपद्रवियों ने छह वाहनों को फूंक दिया।

 

हिंसा पर काबू पाने के लिए पुलिस ने अश्रू गैस के गोले दागे। करीब छह घंटे तक पूरा शहर रणक्षेत्र बना रहा। शहर छावनी के विभिन्न चौक-चौराहों व नुक्कड़ों पर पुलिस की टुकड़ी तैनात कर दी गयी थी।  पुलिस ने शांति कायम करने के लिए शहर में फ्लैग मार्च भी किया। शहर में अशांति के बावजूद समुदायों के बीच शांति बनी रही। दोनों समुदायों ने मिल कर सौहार्द का परिचय दिया और दोनों ही पक्षों ने उपद्रवी तत्वों की हरकतों पर नाराजगी जाहिर की। शहर में अमन कायम करने के लिए विभिन्न पूजा समितियों के प्रतिनिधियों ने पहल की और शहर में घूम-घूम कर लोगों से शांति बनाये रखने की अपील की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*