एक हाथ में कुरान दूसरे में कम्प्युटर;मोदी की सोच को साकार करेंगे

केंद्रीय अल्पसंख्यक कार्य मंत्री नजमा हेब्तुल्लाह ने पटना से बिहार के तीन मदरसों में कौशल विकास केंद्र का उद्घाटन करते हुए कहा है कि मोदी सरकार अपने उस वादे को पूरा करने में लगी है जिसमें उन्होंने कहा था कि वह मदरसों के छात्रों के एक हाथ में कुरान और दूसरे में कम्प्युटर देखना चाहते हैं.IMG_4039

नौकरशाही न्यूज

नजमा हेब्तुल्लाह और केंद्रीय कृषि मंत्री राधा मोहन सिंह ने मौलाना आजाद नेशनल एकेडमी फॉर स्किल (मानस) द्वारा चलाये जा रहे पायलट प्रोजेक्ट के तहत मदरसों के छात्र व छात्राओं के लिए कौशल विकास की ट्रेनिंग कोर्स की शुरुआत की. फिलहाल यह कोर्स पटना के एदारा शरिया और मोतिहारी के मदरसा अंजुमन इस्लामिया व मोतिहारी के ही केसरिया के मदरसे में इस कोर्स की शुरुआत की. उन्होंने कहा कि इसके तहत सरकार ने इन तीनोम मदरसों में 3.60 करोड़ रुपये दिये हैं. इसके तहत, पारम्परिक कौशल का प्रशिक्षण दिया जायेगा. नजमा ने कहा कि इसके लिए प्रशिक्षण प्राप्त कर लेने के बाद छात्रों को माइनारिटी डेवलपमेंट कार्पोरेशन से कम ब्याज पर कर्ज भी दिया जायेगा ताकि वह स्वरोजगार कर सकें.

नजमा हेब्तुल्लाह ने इस अवसर पर विरोधी पार्टियों पर प्रहार करते हुए कहा कि पिछले 64 सालों में मुसलमानों की हालत के लिए कांग्रेस जिम्मेदार रही है. उन्होंने कहा कि मौजूदा सरकार चाहती है कि मुसलमान युवाओं की हालत बदले इस लिए कौशल विकास केंद्रों की सुरूआत की जा रही है. उन्होंने कहा कि ऐसे केंद्रों की शुरुआत चेन्नई, मुम्बई बंगलोर जैसे शहरो में भी की गयी है.

नजमा ने यह बात स्पष्ट किया कि सरकार मदरसों की बुनियादी तालीम में किसी तरह के दखल के बिना कौशल विकास का काम करेगी.

इस अवसर पर कृषि मंत्री राधा मोहन सिंह ने नीतीश सरकार पर जम कर हमला किया. उन्होंने कहा कि नारों से देश नहीं चलता. काम करना पड़ता है. उन्होंने जनधन योजना के बैंक खातों का उल्लेख करते हुए कहा कि जिनके खातों में पैसे नहीं गये उनमें से कई की हुई मौत पर उन्हें एक लाख रुपये का मुआवजा बीमा के रूप में मिला है.  उन्होंने कहा कि हाल ही में नवादा में 12 लोगों की मौत दुर्घटना में हो गयी. सबके जनधन योजना के अकाउंट थे. सबको बीमा के रूप में एक लाख रुपये मिल गये.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*