एमडीएम के‍ संविदाकर्मियों के आश्रितों को मिलेगा 4 लाख का अनुदान

जन कल्याण के लिए प्रतिबद्ध बिहार सरकार ने मध्याह्न भोजन योजना के संविदा कर्मियों के आश्रितों के सुरक्षित भविष्य के लिए कर्मचारियों की मृत्यु होने पर उनके परिजनों को चार लाख रुपये अनुदान देने का निर्णय लिया है।

मंत्रिमंडल सचिवालय विभाग के प्रधान सचिव अरुण कुमार सिंह ने यहां बताया कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अध्यक्षता में हुई मंत्रिपरिषद् की बैठक में इस आशय के प्रस्ताव को मंजूरी प्रदान की गई है। श्री सिंह ने बताया कि शिक्षा विभाग के तहत मध्याह्न भोजन योजना में संविदा पर कार्यरत पदाधिकारियों एवं कर्मियों की सेवाकाल में मृत्यु होने पर उनके आश्रित को एकमुश्त चार लाख रुपये अनुग्रह अनुदान देने के प्रस्ताव को स्वीकृति प्रदान की गई। प्रधान सचिव ने बताया कि बैठक में मद्यनिषेध एवं उत्पाद, मनोरंजन कर एवं दहेज प्रतिषेध से संबंधित तीन विधेयकों को विधानमंडल के आगामी सत्र में पेश किये जाने की स्वीकृति दी गई। वहीं, वित्त विभाग के तहत 01 जनवरी 2006 के पूर्व के राज्य सरकार के पेंशनरों या परिवार पेंशनरों के पेंशन पुनरीक्षण के प्रस्ताव को मंजूरी दी गई है।

श्री सिंह ने बताया कि वैशाली में बुद्ध सम्यक् दर्शन संग्रहालय एवं स्मृति स्तूप के निर्माण के लिए 301 करोड़ 40 लाख पांच हजार 500 रुपये व्यय की प्रशासनिक स्वीकृति दी गई । उन्होंने बताया कि इससे पहले सरकार ने इन कार्यों के लिए 152 करोड़ 37 लाख 54 हजार 462 रुपये की मंजूरी दी थी। भागलपुर जिला में सुलतानगंज के विश्व प्रसिद्ध श्रावणी मेले को ‘राजकीय मेला’ का दर्जा देने की स्वीकृति प्रदान की गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*